Lucknow Airport
Image credit https://navbharattimes.indiatimes.com/

Lucknow airport will manager by Adani group upto 50 years

लखनऊ। भारत में हवाई परिवहन क्षेत्र के विकास आदि को देखते हुए केन्द्र सरकार अनेक कदम उठा रही है। इसी क्रम में एयरपोर्ट सर्विसेज में बेहतर प्रदर्शन करने वाले उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Lucknow airport) को लेकर केंद्र सरकार और अडाणी ग्रुप के बीच हुए करार के तहत 2 नवंबर 2020 से अगले 50 सालों तक एयरपोर्ट की देखरेख का काम अडाणी ग्रुप (Adani Group) द्वारा किया जाएगा।

पब्लिक अफेयर्स इंडेक्स-2020 (public affairs index 2020) में अन्य सभी राज्यों से पिछड़ा उत्तराखंड

पीपीपी मॉडल पर आधारित समझौते के तहत अडाणी ग्रुप ने सोमवार से Lucknow airport का कामकाज संभाल लिया है, लेकिन तीन साल तक वह एयरपोर्ट प्रशासन के साथ मिलकर काम करेगा। आज से एयरपोर्ट संबंधी सभी कार्यों में निर्देशन अडाणी ग्रुप के अधिकारियों का रहेगा।

Baba ka Dhaba- मशहूर करने वाले के खिलाफ ही ढाबा मालिक पहुंचा थाने

बताते चलें कि केंद्र सरकार ने फरवरी 2019 में 6 हवाई अड्डों का निजीकरण किया था जिसमें लखनऊ, अहमदाबाद, जयपुर, मेंगलुरू, तिरुवनंतपुरम और गुवाहाटी शामिल थे। कंप्टीटिव बिडिंग में अडाणी ग्रुप ने इन सभी का अधिकार जीता था।