News-web

देशभर में तेजी से फैल रहा जेएन.1 वायरस , इस तरह से करें बचाव

नए JN.1 वायरस से देशभर में भय का माहौल है। इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए लोगों को सावधानी बरतनी आवश्यक है। इस संक्रमण से आप इस तरह बच सकतें हैं।

1. खुद को स्वच्छ रखें और आसपास स्वच्छता बनाए रखें। JN.1 के संचरण को रोकने के लिए सबसे प्रभावी तरीकों में से एक अच्छी व्यक्तिगत स्वच्छता का अभ्यास करना है। इसमें नियमित रूप से साबुन और पानी से कम से कम 20 सेकंड तक हाथ धोना, साबुन उपलब्ध न होने पर हैंड सैनिटाइज़र का उपयोग करना और बिना धोए हाथों से चेहरे को छूने से बचना चाहिए।

2. मस्क जरूर पहने मास्क पहनने से JN.1 के संक्रमण का खतरा काफी हद तक कम हो सकता है। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने की सलाह दी जाती है, खासकर जहां सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पलान करना संभव न हो। मास्क को नाक और मुंह दोनों को अच्छी तरह से ढंकना चाहिए और लगातार पहनना चाहिए।

3. सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें। जेएन.1 के प्रसार को रोकने के लिए दूसरों से सुरक्षित दूरी बनाए रखना महत्वपूर्ण है। खांसने, छींकने या बीमारी के कोई लक्षण दिखाने वाले लोगों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखने की सलाह दी जाती है।

4. भीड़-भाड़ वाली जगहों और समारोहों से बचें, खासकर बंद जगहों पर। ब्रीदिंग प्रोटोकॉल का पालन करें, खांसते या छींकते समय मुंह और नाक को टिश्यू या कोहनी से ढकने से जेएन.1 के प्रसार को रोकने में मदद मिल सकती है। इस्तेमाल किए गए टिश्यू का उचित तरीके से निपटान किया जाना चाहिए और उसके तुरंत बाद हाथ धोना चाहिए। खांसने या छींकने वाले किसी भी व्यक्ति के निकट संपर्क से बचें।

5. सैनिटाइजर का उपयोग करते रहें। सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करें। दरवाज़े के हैंडल, लाइट स्विच, मोबाइल फोन और कीबोर्ड जैसी वस्तुओं की सफाई का ध्यान रखें।