Good news, Jageshwar Dham will open for devotees from July 1st

Jageshwar dham

अल्मोड़ा,25जून2020-द्वादस ज्योतिर्लिंग के नाम से प्रसिद्ध जागेश्वर धाम (jageshwar dham)पहली जुलाई से श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खुलेगा.

लाँक डाउन के चलते मार्च अंतिम सप्ताह से मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद है, फिलहाल यह मंदिर केवल श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए ही खुलेगा, पूजा अर्चना व अनुष्ठान के लिए बाद में निर्णय लिया जाएगा.

दर्शन के लिए भी एक दिन में केवल 100 लोगों को अनुमति दी जाएगी 50 लोगों को आँफ लाइन पास व 50 को आँन लाइन पास के माध्यम से प्रवेश दिया जाएगा.

फिलहाल केवल अल्मोड़ा जिले के लोगों को ही मंदिर(jageshwar dham) में दर्शन की अनुमति रहेगी

गुरुवार को जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया की अध्यक्षता में जागेश्वर मन्दिर प्रबन्धन समिति व अन्य स्थानीय जनप्रतिनिधियों की बैठक कलैक्ट्रेट में सम्पन्न हुई.
इस बैठक में जागेश्वर धाम(jageshwar dham) को श्रद्वालुओं के दर्शनार्थ खोले जाने आदि विषयों पर चर्चा की गया. विचार विमर्श के बाद मंदिर को सीमित प्रवेश के साथ दर्शनार्थ खोलने का निर्णय लिया गया.
बैठक में सभी सदस्यों व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की सहमति के आधार पर निर्णय लिया गया कि जागेश्वर धाम (jageshwar dham)को 1 जुलाई से अल्मोड़ा जनपद के श्रद्वालुओं के दर्शन मात्र के लिए खोला जायेगा.


इस दौरान अन्य धार्मिक क्रिया-कलाप (यज्ञोपवित, कर्मकाण्ड) बन्द रहेंगे. बैठक में यह भी सहमति बनी कि मन्दिर में दर्शन हेतु समिति संख्या में (प्रतिदिन 100) ही लोग आ पायेंगे.


हालांकि मन्दिर में पूजा पाठ पूर्व की भाॅति आन लाईन किये जायेंगे. मन्दिर दर्शन हेतु प्रातः 8 बजे से सांय 5 बजे तक श्रद्वालुओं के लिए खोला जायेगा.


दर्शन व मन्दिर में प्रवेश हेतु आनलाईन व आफलाईन पास जारी किये जायेंगे. बिना पास के मन्दिर में प्रवेश नहीं करने दिया जायेगा.


बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि मन्दिर परिसर को समय-समय पर सेनेटाईज व स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइड लाईन के अनुसार मास्क व सामाजिक दूरी का पालन करना होगा.

मन्दिर में आने वाले श्रद्वालुओं की थर्मल स्कैनिंग की जायेगी व बिना कोविड लक्षण वाले व्यक्तियों को ही प्रवेश दिया जायेगा.


इस दौरान दो बैरियरों आरतोला व भगरतोला मार्ग पर इन्ट्री पाइंट बनाये जायेंगे और वहाॅ पर आने वाले श्रद्वालुओं की पूर्ण जानकारी व पास आदि की चैकिंग की जायेगी.

जिलाधिकारी ने कहा कि मन्दिर को चरणबद्व तरीके से अन्य श्रद्वालुओं के लिए भी खोला जायेगा जिससे कोविड संक्रमण से बचा जा सके.

बैठक में उपजिलाधिकारी मोनिका, प्रबंधक जागेश्वर मन्दिर समिति भगवान भटट, सूचना विज्ञान अधिकारी अमित लाम्बा, उपाध्यक्ष गोविन्द गोपाल, जेष्ठ ब्लाॅक प्रमुख धौलादेवी योगेश भटट, सदस्य क्षेत्र पंचायत महेश राम, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि नारद भटट, श्रीराम प्रसाद, कमल बिष्ट, पुरातत्व अधिकारी चन्द्र सिंह चौहान आदि मौजूद थे.

ताजा अपडेट के लिए हमारे यूट़्यूब उत्तरान्यूज के लिंक को क्लिक कर सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw