बुंगाछीना – रसैपाटा रोड : कटिंग के मलबे से दबे खेतों का मुआवजा देने के निर्देश

उत्तरा न्यूज टीम
2 Min Read

पिथौरागढ़। जनपद की तहसील देवलथल क्षेत्र में निर्माणाधीन रसैपाटा – बुंगाछीना मोटर मार्ग के मलबे से खेतों और पैदल रास्तों के दबने, पेयजल लाइनों व पेयजल टैंकों के क्षतिग्रस्त होने और पेयजल स्रोतों के क्षतिग्रस्त होने की शिकायत पर जिलाधिकारी रीना जोशी ने बृहस्पतिवार को मोटरमार्ग का स्थलीय निरीक्षण किया और रोड कटिंग कार्य लापरवाही से किये जाने तथा मलबा डम्पिंग जोन में न डाले जाने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई।

उन्होंने अधिशासी अभियंता लोनिवि एमसी तिवारी को निर्देश दिये कि ग्रामीणों के जो खेत मलबे में दबकर बर्बाद हो गये हैं उनका मुआवजा ग्रामीणों को दिया जाए। साथ ही क्षतिग्रस्त पेयजल लाइनों, टैंकों व जलस्रोतों को तत्काल दुरुस्त करवाया जाए।

जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि रोड कटिंग के दौरान निकल रहे मलबे को डंपिंग जोन में ही डंप किया जाए। उन्होंने ग्रामीणों से भी डंपिंग जोन के लिए भूमि देने को कहा। इस दौरान ग्रामीणों ने बताया गया कि रोड कटिंग के मलबे से ग्राम मुसगल के 8 से 10 परिवारों के खेत मलबे में दबकर बर्बाद हो गए हैं, जबकि पेयजल स्रोतों के मलबे में दबने से ग्राम मोडी, गुबरोली, रिगाड़ा, साराढंगा और खोली के ग्रामीणों के सामने पेयजल संकट उत्पन्न हो गया है।

Joinsub_watsapp