गीता प्रेस को मिलेगा गांधी शांति पुरस्कार 2021

editor1
1 Min Read

दिल्ली। गीता प्रेस गोरखपुर उत्तरप्रदेश को वर्ष 2021 का प्रतिष्ठित गांधी शांति पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाले निर्णायक मंडल की बैठक में रविवार को यह निर्णय लिया गया। गीता प्रेस सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1860 के तहत पंजीकृत गोबिंद भवन कार्यालय की एक इकाई है। संस्था का मुख्य उद्देश्य सनातन धर्म, हिंदू धर्म के सिद्धांतों को गीता, रामायण, उपनिषद, पुराण, प्रख्यात संतों के प्रवचन और अन्य चरित्र-निर्माण पुस्तकों और पत्रिकाओं को प्रकाशित करके और उन्हें अत्यधिक सब्सिडी पर विपणन करके आम जनता के बीच प्रचार और प्रसार करना है।

बताते चलें कि गांधी शांति पुरस्कार भारत सरकार द्वारा स्थापित एक वार्षिक पुरस्कार है। वर्ष 1995 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 125वीं जयंती के अवसर पर उनके आदर्शों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए इस पुरस्कार की स्थापना की गई थी। इस पुरस्कार के रूप में एक करोड़ की राशि प्रदान की जाती है।

Joinsub_watsapp