News-web

Exclusive: हाथरस भगदड़ के पीछे ‘बाबा की रंगोली’ के बुरादे की चौंकाने वाली सच्चाई

Published on:

Exclusive: The shocking truth behind the Hathras stampede is the sawdust of 'Baba Ki Rangoli'

यूपी के हाथरस में धार्मिक कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 166 लोग जान गंवा बैठे है। अब इस घटना के पीछे कई चौकाने वाले खुलासे हो रहे है। इसके पीछे बाबा की रंगोली के बुरादे का मामला सामने आ रहा है।


घटना का खुलासा: हाथरस सत्संग हादसे में सवा सौ मौतों के पीछे बाबा की रंगोली के बुरादे का चौंकाने वाला सच।


भगदड़ का कारण: बाबा के अनुयायियों ने रंगोली के बुरादे को आशीर्वाद मानकर दंडवत प्रणाम कर उसे लेना चाहा, जिससे भगदड़ मची।


रंगोली की जानकारी: सवा दो टन बुरादे से बनी 200 मीटर लंबी रंगोली बाबा के मार्ग में बनाई जाती है, जिसे अनुयायी आशीर्वाद मानते हैं।
आयोजकों की चूक: स्थानीय पुलिस को इस आयोजन की कोई जानकारी नहीं दी गई थी, जिससे सुरक्षा प्रबंध विफल रहे।


शासन की प्रतिक्रिया: उत्तर प्रदेश सरकार के अधिकारियों को पूरी जानकारी साझा कर दी गई है, आगे की जांच जारी।
प्रसंग: इस हादसे में 116 लोगों की मौत हुई, जिनमें अधिकांश महिलाएं और बच्चे थे। भगदड़ की घटना के बाद, पोस्टमार्टम के लिए चिकित्सक और कर्मचारियों की भारी संख्या में तैनाती की गई।