News-web

आप जानते है पपीते को अखबार में है क्यों लपेटकर रखा जाता है? अगर नहीं तो जानिए यहां

हम सभी अक्सर सब्जी व फल खरीदने के लिए बाजार जरूर जाते हैं. वहीं आपने देखा होगा कि बाजार में बिकने वाले फलों और जब आप बाजार फल या सब्जी खरीदने जाते है तो आप देखते होंगे की फल सब्जियों को बड़ी ही सावधानी से रखा जाता है।

ताकी वह खराब ना हों और उन्हें सही दाम पर बेचा जा सके। इसके अलावा आपने फ्रूट मार्केट में कभी गौर किया हो, तो देखा होगा कि बाजार में बिकने वाले पपीतों को अखबार में लपेटकर रखा जाता है.लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि आखिर पपीतों को अखबार में लपेटकर ही क्यों बेचा जाता है? चलिए हम आपको बताते है ऐसा क्यों किया जाता है।

1. एथिलीन गैस: कई अन्य फलों की तरह पपीता, एथिलीन नामक एक प्राकृतिक गैस छोड़ता है। इस गैस से वह पकता है। यह गैस एंजाइमों को ट्रिगर करती है, जो स्टार्च को शुगर में ब्रेक करती है, फल को नरम करती है और उसका स्वाद बढ़ाती है।

2. एथिलीन को फंसाना : जब आप पपीते को अखबार में लपेटकर रखते है तो फल से निकलने वाली एथिलीन गैस बंद जगह में फंस जाती है और एथिलीन का यह कंसंट्रेशन पपीते के पकने की प्रक्रिया को तेज कर देता है।

3.पकने का समय: पपीता शुरू में कितना हरा था, इसके आधार पर, इसे पेपर बैग या अखबार में रखने से यह दो से तीन दिनों के भीतर आसानी से पक जाता है।