shishu-mandir

जिलाधिकारी ने नारी निकेतन बाल संप्रेक्षण गृह का किया निरीक्षण , सुविधाओं की दी जानकारी

उत्तरा न्यूज डेस्क
3 Min Read
Screenshot-5

new-modern
gyan-vigyan

अल्मोड़ा। जिलाधिकारी विनीत तोमर ने को बख स्थित किशोरी गृह, शिशु गृह, नारी निकेतन एवं बाल सम्प्रेक्षण गृह पाण्डेखोला का स्थलीय निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने इन संस्थानों में रह रहे बच्चों, बालिकाओं एवं बालको को दी जाने वाली सुविधाओं की जानकारी ली।

saraswati-bal-vidya-niketan

इस दौरान उन्होंने किशोरी गृह में रह रही बालिकाओं द्वारा बनायी गयी एैंपण व अन्य चीजों का अवलोकन किया। जिलाधिकारी बच्चियों द्वारा बनायी गयी एैंपण से बेहद प्रभावित हुये। जिलाधिकारी ने वहां पर रहे बच्चों से वार्तालाप की और उनकी शौक के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने सभी बच्चों से कहा कि सफलता पाने के लिये अपने लक्ष्यों को हमेंशा ऊॅचा रखें तभी आपको अपने कार्य क्षेत्र में सफलता मिल पायेगी।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिये कि यहां पर निवासरत बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण व वैक्सीनेशन मेडिकल टीम द्वारा समय-समय पर कराया जाय।  उन्होंने निर्देश दिये कि जिन बच्चों का जन्म प्रमाण पत्र व स्थाई निवास प्रमाण पत्र सहित अन्य प्रमाण पत्र बनाये जाने है उन्हें निर्धारित समय के अन्तर्गत बना लिया जाय। 

इस दौरान जिलाधिकारी संस्था मे काम करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के वार्तालाप की और उनके द्वारा किये जाने वाले कार्याें के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त की। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने बच्चों को दिये जाने वाले दैनिक आहार के बारे में संस्था की अधीक्षका से जानकारी प्राप्त की। उन्होंने निर्देश दिये कि बच्चों के देखभाल में किसी प्रकार की कोई कमी न रहने पाय।

इस दौरान जिलाधिकारी ने सुरक्षा, भोजनालय, शौचालय, पयेजल व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्थाओ की निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि भवन सहित अन्य जो भी मरम्मत कार्य किये जाने है उसके लिये पत्राचार किया जाय। उन्होंने निर्देश दिये कि वहां पर रह रहे सभी बच्चों को स्कूली शिक्षा आवश्य रूप से दिलायी जाय जिससे बच्चें आत्मनिर्भर बन सके।

जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि 16 एवं 17 वर्ष की बालिकाओं की उनकी रूचि के अनुसार उनके लिए व्यवसायिक क्षेत्र तलाशे जाय जिससे वे 18 वर्ष की होने पर उस क्षेत्र में अपनी आजीविका चला सके। जिला प्रोबेशन अधिकारी राजीव नयन तिवारी, अधीक्षिका शिशु सदन माया पाण्डे, अधीक्षिका नारी निकेतन मंजू उपाध्याय, अधीक्षिका राजकीय संरक्षण महिला गृह प्रेमा आर्या, सीडब्लूसी सदस्य मीता उपाध्यक्ष अन्य लोग उपस्थित रहे।