अब अपर निजी सचिव परीक्षा की जांच की मांग उठी

उत्तरा न्यूज टीम
1 Min Read

देहरादून। उत्तराखंड में इन दिनों अनेक भर्ती परीक्षाओं में घोटालों की बात सामने आ रही है। पटवारी लेखपाल भर्ती परीक्षा और जेई एई भर्ती परीक्षा में पेपर लीक की पुष्टि होने के बाद लोक सेवा आयोग को अपर निजी सचिव परीक्षा 2020 फिर सवालों के दायरे में आ गई है।

बेरोजगारों ने इस भर्ती की जांच भी एसआईटी से कराने की मांग की है। जानकारी के अनुसार इस परीक्षा से चयनित दो एपीएस UKSSSC भर्ती घपले में गिरफ्तार हो चुके हैं।

बताते चलें कि उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने अक्तूबर 2020 में अपर निजी सचिव की भर्ती परीक्षा आयोजित की थी, जिसका अंतिम परिणाम जनवरी 2021 में जारी किया गया था। चयनित अभ्यर्थियों को मई जून 2021 में सचिवालय के विभिन्न विभागों में तैनाती मिली।

जानकारी के अनुसार इस परीक्षा के दो चयनित अभ्यर्थी बीते वर्ष जुलाई में सामने आए UKSSSC स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में नकल माफिया के साथ सांठ-गांठ के आरोप में गिरफ्तार हो चुके हैं। इसके बाद से युवाओं का संदेह अपर निजी सचिव परीक्षा पर भी गहरा रहा है।

Joinsub_watsapp