corona

corona ka kahar- Pithoragarh bazar rha puri tarh band


पिथौरागढ़ सहयोगी 2 जनवरी 2021

पिथौरागढ़। कोरोना (corona) वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ते खतरे के मद्देनजर जिला मुख्यालय में शनिवार से 2 दिन का बंद रखा गया। शनिवार सुबह 10 बजे तक दूध, सब्जी जैसी आवश्यक सेवाएं खुली रहीं और उसके बाद शाम तक सिर्फ मेडिकल स्टोर ही खुले रहे, जबकि अन्य दुकानें और प्रतिष्ठान पूरी तरह बंद रहे। बैंक, पोस्ट ऑफिस सहित अन्य सरकारी कार्यालयों को इस बंद से छूट दी गई और उनमें अन्य दिनों की तरह कामकाज होता रहा।

कोरोना (corona) का हाहाकार, गुरूवार को पिथौरागढ़ में तीन लोगों की मौत, मृतको का आंकड़ा पहुंचा 44

हालांकि बाजार बंद के चलते बैंक, पोस्ट ऑफिस आदि में भीड़—भाड़ काफी कम नजर आई। कोरोना (corona) वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए शुक्रवार शाम जिला प्रशासन के अधिकारियों और व्यापारियों की बैठक हुई, जिसमें जनवरी माह के हर शनिवार और रविवार को खासकर जिला मुख्यालय में आवश्यक सेवाओं को छोड़कर पूर्ण बंद रखे जाने पर सहमति बनी।

बैठक में व्यापारियों के दोनों गुटों और प्रशासन के बीच बनी सहमति को लेकर देर शाम से नगर में लाउडस्पीकर के माध्यम से शनिवार और रविवार के बाजार बंद सहयोग के लिए अपील की जाने लगी। शनिवार सुबह पुलिस प्रशासन की ओर से भी लाउडस्पीकर के माध्यम से बंद की अपील की गई। साथ ही आवश्यक सेवाओं को छोड़कर कोई भी दुकान खुली पाए जाने और बिना मास्क पहने व्यक्ति को भारी जुर्माने का की चेतावनी भी दी गई।
हालांकि बंद को लेकर लोगों में सुबह तक असमंजस की स्थिति बनी रही। लोगों में यह झूठी खबर भी फैली कि वाहनों का संचालन भी पूरी तरह बंद रहेगा।


कोरोना (corona) वायरस संक्रमण के चलते शनिवार को सुबह से ही बाजारों में भीड़ कम नजर आई और 10 बजे बाद जिला मुख्यालय की सड़कों पर सन्नाटा पसरने लगा। दिनभर केवल दवाई की दुकानें ही खुली रही और बैंक, पोस्ट ऑफिस अन्य सरकारी कार्यालयों में कामकाज हुआ। मगर बंद के चलते लोग सरकारी कार्यालयों में भी कम पहुंचे।

कोरोना (corona) का हाहाकार, गुरूवार को पिथौरागढ़ में तीन लोगों की मौत, मृतको का आंकड़ा पहुंचा 44


वहीं रोडवेज के साथ ही प्राइवेट वाहनों का संचालन जारी रहा हालांकि बंद के चलते सरकारी और प्राइवेट वाहनों को यात्री मिलना भी मुश्किल रहा जिससे सड़कों पर वाहनों की आवाजाही कम रही और दुपहिया वाहन भी कम नजर आए। दूसरी ओर गंगोलीहाट में थी 7 दिन के बंद का काफी असर दिखा वहीं सीएमओ डॉ एचएस पंत ने कहा कि इस दौरान लोगों की सैंपलिंग की जाएगी और कोरोना (corona)
संक्रमण की चेन तोड़ने का पूरा प्रयास रहेगा। उन्होंने बताया शनिवार को इसके लिए विभाग की तीन टीमें लगाई गई।


सीएमओ ने यह भी बताया कि स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन का विचार जिला मुख्यालय में 2-3 कंटेनमेंट जोन बनाने का था, लेकिन व्यापारियों के दोनों संगठनों ने मुख्यालय के बाजार को पूरी तरह बंद रखे जाने पर जोर दिया, जिसके बाद दो दिन के बंद के इस निर्णय पर सहमति जताई गई।

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw/