उत्तरा न्यूज
अभी अभी

Pithoragarh:: आपदा प्रभावितों से मिले सीएम धामी, मृतकों के आश्रितों को सौंपे 4-4 लाख के चेक

उत्तरा न्यूज की खबरें अब whatsapp पर, इस लिंक को क्लिक करें और रहें खबरों से अपडेट बिना किसी शुल्क के
Join Now

पिथौरागढ़ सहयोगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को पिथौरागढ़ जिले की सीमांत तहसील धारचूला के आपदा प्रभावित क्षेत्र ग्राम जुम्मा में बीते दिन हुई भारी बारिश से हुए नुकसान का जायजा लिया। मुख्यमंत्री आपदा प्रभावितों से मिले भी और उनका हाल जाना।  

nitin communication

इस दौरान उन्होंने जुम्मा के जामुनी तोक में लापता व्यक्तियों की खोजबीन को चलाए जा रहे रेस्क्यू कार्य की स्थिति भी जानकारी ली और आपदा प्रभावित क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण कर हालात का जायजा भी लिया। सीएम जुम्मा के ऐलागाड़ स्थित एसएसबी कैम्प में क्षेत्र के जामुनी और सिरौउयार तोक के आपदा प्रभावितों से मिले और शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार दुःख की इस घड़ी में उनके साथ खड़ी है। इस दौरान उन्होंने प्रभावित परिवारों को प्रति मृतक 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता का चेक प्रदान किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री आर्थिक सहायता कोष से भी प्रति मृतक 1 लाख रुपये की धनराशि परिवार को उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। 

pithoragarh इसके बाद मुख्यमंत्री धामी ने पर्यटक आवास गृह धारचूला पंहुचकर स्थानीय लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनीं। इससे पूर्व जुम्मा में रविवार की रात आपदा की घटना में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त कर उनकी आत्मा की शान्ति के लिए 2 मिनट का मौन रखा गया। 

मुख्यमंत्री ने धारचूला नगर के नोगांव (तरकोट), मल्ली बाजार के आपदा पीड़ित परिवारों से भी मुलाकात कर हर सम्भव मदद करने की बात कही और जिलाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आपदा प्रभावित क्षेत्रों का भू-गर्भीय परीक्षण कराकर सुरक्षा के कार्य कराए जाएंगे। जहां पुनर्वास की जरूरत होगी वहां पुनर्वास किया जाएगा। उन्होंने लोगों की समस्या सुनकर बरम के गोगोई में भू कटाव रोकने को सुरक्षा दीवार का निर्माण करने की घोषणा भी करी। 
उन्होंने कहा कि धारचूला में काली नदी के किनारे तटबन्ध निर्माण के लिए सिंचाई विभाग द्वारा तैयार 42 करोड़ की धनराशि के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान करने को शासन से कार्यवाही की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हालात के मद्देनजर आगामी एक माह के लिए क्षेत्र में हैलीसेवा को बढ़ा दिया गया है। आवश्यकता पड़ने पर इसे आगे भी बढ़ाया जाएगा। सीएम ने कहा कि पिथौरागढ़ से हवाई सेवा सुचारू किए जाने के भी प्रयास जारी हैं।

क्षतिग्रस्त सड़कों को खोलना प्राथमिकता 
आपदा प्रभावित क्षेत्र धारचूला के दौरे के दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि कहा कि क्षेत्र में आपदा से क्षतिग्रस्त सड़कों को खोलना हमारी प्राथमिकता है। क्षेत्र में तीन माह के लिए खाद्यान्न की आपूर्ति की जा चुकी है, जहां खाद्यान्न की कमी होगी उन क्षेत्रों में हेलीकॉप्टर से खाद्यान्न पंहुचाया जाएगा। क्षेत्र में चिकित्सकों की तैनाती की जाएगी। उन्होंने आपदा के दौरान प्रशासन द्वारा किए गए त्वरित कार्य के लिए जिलाधिकारी और समस्त टीम की सराहना करते हुए कहा कि आपदा विभाग 24 घंटे कार्य कर रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि धारचूला के ग्वाल गांव में सुरक्षा के कार्य किए जाएंगे। व्यास खोतिला के भू कटाव की सुरक्षा को धनराशि दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार जो भी घोषणा कर रही है उसे धरातल पर अवश्य ही साकार कर रही है। 

इस दौरान क्षेत्रीय सांसद अजय टमटा ने कहा कि सरकार दुःख की इस घड़ी में आपदा प्रभावितों के साथ है। उनकी हर संभव मदद की जाएगी।

सीएम के भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान, पुलिस अधीक्षक सुखबीर सिंह, क्षेत्र प्रमुख धन सिंह धामी, अध्यक्ष नगर पालिका राजेश्वरी देवी, प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी आशीष पुनेठा, अपर जिलाधिकारी बागेश्वर सीएस इमलाल, बीआरओ के कमांडर कर्नल एनके शर्मा, सेना के कर्नल राहुल राय, अजय पाल, उपजिलाधिकारी धारचूला अनिल कुमार शुक्ला, डीडीहाट एसडीएम केएन गोस्वामी, धारचूला व्यापार संघ अध्यक्ष भूपेन्द्र थापा, भाजपा नगर अध्यक्ष कृष्ण गर्ब्याल, रुकुम सिंह बिष्ट, हरीश गुंज्याल, पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत वीरेंद्र बोहरा, स्वामी वीरेंद्रानंद महाराज, सामाजिक कार्यकर्ता गोविन्द महर, भाजपा नेता बीएल जोशी, गणेश भंडारी, गोलू पाठक, आन सिंह रोकाया, हरीश धामी, नारायण दरियाल समेत क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि व जनता, विभागीय अधिकारी आदि मौजूद थे।

Related posts

Uttarakhand- एक और घोषणा, अब चिड़ियाघर में होगी बच्चों की मुफ्त एंट्री

Newsdesk Uttranews

कालाढूंगी (Kaladhungi) में अवैध लकड़ी सहित पिकअप, मोटरसाइकिल जब्त

Newsdesk Uttranews

तबाही की बारिश – चौखुटिया के ग्वारी गांव में हुआ भारी नुकसान, घरों में घुसा पानी