cbse

CBSE 12th result 2020: Girl students won

दिल्ली, 13 जुलाई 2020 केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 12वीं परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है. पास प्रतिशत में एक बार फिर छात्राओं ने छात्रों को पीछे छोड़ दिया है. छात्रों के मुकाबले छात्राओं का पास प्रतिशत 5.96 फीसदी ज्यादा है.

सीबीएसई(CBSE) बोर्ड ने 15 जुलाई तक परीक्षा परिणाम घोषित करने का ऐलान किया था. लेकिन बिना किसी पूर्व सूचना के छात्र—छात्राओं को सरप्राइज देते हुए 13 जुलाई को अचानक रिजल्ट जारी कर दिया.

इस बार सीबीएसई (CBSE) 12वीं बोर्ड परीक्षा में 1203595 छात्रों ने पंजीकरण किया था और 1192961 परीक्षार्थियों ने परीक्षाएं दी थीं. इनमें से कुल 1059080 यानि 88.78% परीक्षार्थी पास हुए है. जिसमें 92.15 फीसदी छात्राएं पास हुई है जबकि छात्रों का पास प्रतिशत 86.19 फीसदी है. इसके अलावा 66.67 फीसदी ट्रांसजेंडर हैं. यानि छात्रों के मुकाबले इस बार छात्राओं को पास प्रतिशत 5.96 फीसदी ज्यादा रहा.

इस वर्ष 5.38 फीसदी बेहतर परिणाम

सीबीएसई(CBSE) 12वीं बोर्ड परीक्षा में इस बार 88.78% फीसदी परीक्षार्थी पास हुए. पिछले वर्ष 12वीं का रिजल्ट 83.40 फीसदी था. पिछले वर्ष की तुलना की जाए तो इस बार रिजल्ट 5.38 फीसदी अधिक है.

त्रिवेंद्रम रीजन का परिणाम सबसे बेहतर

इस वर्ष सीबीएसई(CBSE) 12वीं परीक्षा में त्रिवेन्द्रम रीजन के परिणाम सबसे बेहतर रहे हैं. यहां 97.67 फीसदी परीक्षार्थी परीक्षा में पास हुए. 97.05 फीसदी के साथ दूसरे नंबर पर बेंगलुरु, 96.17 फीसदी के साथ तीसरे नंबर पर चेन्नई रहा.

इसके अलावा दिल्ली वेस्ट का रिजल्ट 94.61 फीसदी और दिल्ली ईस्ट का रिजल्ट 94.24 फीसदी रहा है. नोएडा रीजन का रिजल्ट 84.87 फीसदी जबकि प्रयागराज का रिजल्ट 82.49 फीसदी व अजमेर का 87.60 फीसदी रहा. सबसे खराब रिजल्ट पटना रीजन (74.57 फीसदी) का रहा.

पिछले साल इन छात्राओं ने मारी बाजी

सीबीएसई(CBSE) 12वीं बोर्ड परीक्षा—2019 में उत्तरप्रदेश की 2 छात्राओं ने टॉप किया था. इसमें एक छात्रा हंसिका डीएसपी स्कूल मेरठ रोड गाजियाबाद की छात्रा थीं. जबकि, करिश्मा एसडी पब्लिक स्कूल मुजफ्फरनगर की छात्रा थीं. दोनों ने 500 में से 499 अंक हासिल किए थे.

अपडेट खबरों के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw