Join WhatsApp Group

News-web

ब्रेकिंग न्यूज: जच्चा-बच्चा की मौत के बाद बवाल, गुस्साएं परिजनों ने अस्पताल में काटा हंगामा, एसडीएम के आदेश के बाद अस्पताल सील

Published on:

डेस्क। उत्तराखंड के रुड़की के एक निजी अस्पताल में प्रसव के बाद जच्चा-बच्चा की मौत हो गई। अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए परिजनों ने जमकर हंगामा काटा। ​परिजनों के बढ़ते आक्रोश को देखते हुए एसडीएम के आदेश पर अस्पताल सील कर दिया गया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीते 25 दिसंबर को दाबकी गांव निवासी जसवीर कश्यप की पत्नी मुकेश उम्र 30 वर्ष को प्रसव पीड़ा होने पर कस्बे के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां बीते गुरुवार को महिला ने बेटे को जन्म दिया। जन्म के दो घंटे बाद शिशु की तबीयत बिगड़ने लगी। जिसके बाद चिकित्सकों ने उसे हायर सेंटर ​हरिद्वार रेफर कर दिया। लेकिन हरिद्वार पहुंचने से पहले ही शिशु की आधे रास्ते में मौत हो गई।

परिजनों का आरोप है कि महिला की तबीयत ठीक बताकर चिकित्सकों ने उसे भर्ती रखने की सलाह दी। लेकिन बीती देर रात महिला की भी तबीयत अचानक खराब होने लगी। मुकेश देवी का ब्लडप्रेशर कम बताकर चिकित्सकों ने उसे हरिद्वार के लिए रेफर कर दिया। आनन—फानन में परिजन महिला को हरिद्वार ले गए। लेकिन अस्पताल में भर्ती के करीब एक घंटे बाद महिला ने दम तोड़ दिया।

चिकित्सकों की गंभीर लापरवाही बताते हुए आ​क्रोशित परिजन शव को लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां परिजनों ने जमकर हंगामा काटा। इधर सूचना मिलते ही एसडीएम पूरन सिंह राणा, सीओ अविनाश वर्मा और सीएचसी अधीक्षक डॉ. अनिल वर्मा भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे।

एसडीएम ने अस्पताल में मौजूद तीन मरीजों को सीएचसी रेफर किया ओर सीएचसी अधीक्षक को अस्पताल को सील करने के आदेश दिए। एसडीएम के निर्देश पर अस्पताल को सील कर दिया गया। इधर पुलिस ने बताया कि मामले में परिजनों की ओर से तहरीर नहीं मिली है तहरीर के बाद कानूनी कार्यवाही की जाएगी। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

उत्तरा न्यूज की फीड व्हाट्सएप पर पाने के लिए 9456732562, 9412976939 और 9639630079 पर फीड लिख कर भेंजे…..
आप हमारे फेसबुक पेज ‘उत्तरा न्यूज’ व न्यूज ग्रुप uttra news से भी जुड़कर अपडेट प्राप्त करें|
यूट्यूब पर सबसे पहले अपडेट पाने के लिए youtube पर uttranews को सब्सक्राइब करें…….