उत्तरा न्यूज
अभी अभी

Face Pack: दमकती त्वचा पाने के लिए घर पर लगाएं यह फेस पैक

face pack

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

चमकती त्वचा और निखार सभी लोगो की पहली पसंद होती है। हम अपनी त्वचा को चमकाने और निखारने के लिए कई हजारों रुपए खर्च करके पार्लर और ब्यूटी प्रॉडक्ट इस्तेमाल में लाते है जिनकी वजह से हमारी त्वचा पर कई दुष्प्रभाव पड़ते है। यह ज्यादा लंबे समय चलने वाला परिणाम नहीं देता है। हम त्वचा की देखभाल करने के लिए प्राकृतिक गुणों से भरपूर उबटन फेस मास्क बनाने की असरदार विधि के बारे में जानेगें।

रोजमर्रा की जिंदगी मे हमारी त्वचा धूल और गंदगी की वजह से गंदी हो जाती है। ठण्डे के समय में ज्यादा धूप में रहने से हमारी त्वचा बेजान होने लगती है। रूखी त्वचा और खुजली की समस्या भी हो जाती है। ऐसे में त्वचा की उचित देखभाल भी करना बहुत जरूरी हो जाता है। यदि त्वचा का ख्याल नही रखा जाए तो इसमें दाग, धक्कों, झुर्रियाँ और त्वचा की गंभीर समस्याएं हो सकती हैं।


प्राकृतिक गुणों से भरपूर इस उबटन से त्वचा की देखभाल करने से कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। जिसको बनाने ​की असरदार विधि के बारे में आज हम जानेंगे। हैं। उबटन फेस मास्क कैसे बनाएं? आइए देखिए कि कैसे बनता है।


दूध और चंदन से बना फेस पैक
एक कटोरी मेे सबसे पहले हम एक चम्मच चंदन, दो चम्मच दूध और आधा चम्मच हल्दी पाउडर और दो चम्मच बेसन की आवश्यकता होती है। एक बाउल में डालें चंदन, बेसन, दूध और हल्दी पावडर और अच्छी तरह मिला लें। इन सब को अच्छी तरह मिला कर अपनी उंगलियों की मदद से चेहरे पर हल्के हाथों से लगाएं। फिर धीमे से अपने से हाथों से चेहरे की मसाज करें। बाकी बचे ​हुए मिश्रण को आप अपनी गर्दन पर लगाएं। जब यह अच्छी तरह सुख जाए तो कुछ मिनट के बाद गुनगुने पानी से धो लें। हफ्ते में कम से कम 3 बार लगाएं। यह फेस पैक मुंहासे, ब्रेकआउट और पिगमेंटेशन को दूर करता है।


हल्दी
हल्दी में सक्रिय यौगिक करक्यूमिन होता है और यह एक एंटीऑक्सीडेंट है। यह चेहरे से यह मुंहासों की समस्या को दूर करने में सहायता करती है। यह त्वचा पर सूजन कम कर देता है। हल्दी त्वचा में मौजूद प्राकृतिक तेल का संतुलन बनाए रखती है, सूरज से आने ​वाली हानिकारक किरणों, पर्यावरण प्रदूषण से त्वचा की सुरक्षा करती है।हल्दी त्वचा की चमक को बनाए रखती है और बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करती है। हल्दी मुक्त कणों के प्रभाव को कम करता है और त्वचा की कोशिका क्षति को रोकता है।


बेसन
चने के आटे में जिंक पाया जाता है। यह मुहांसों से मुक्त होने में मदद करता है। एल्कलाइन और एक्सफोलिएटिंग गुण त्वचा पर जमा अशुद्धियों को दूर करते हैं।इसके साथ ही यह छिद्रों को साफ करता है। चना त्वचा की टैनिंग को भी कम करता है और मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाता है। चना प्राकृतिक त्वचा टोन को बाहर लाने में मदद करता है।


चंदन
चंदन के एंटी-इंफ्लेमेटरी,एंटीमाइक्रोबियल,एंटीवायरल और एंटीसेप्टिक गुण त्वचा की समस्याओं जैसे दाग-धब्बे, एक्जिमा, सोरायसिस, मुंहासेझुर्रियां, सूजन और पिगमेंटेशन की समस्या से निजात दिलाने में सहायक सिद्ध होते है।

Related posts

Pithoragarh- आपदा प्रभावितों के विस्थापन कार्यों में तेजी लाने के निर्देश

editor1

विकास के नाम पर फेल हो गई भाजपा की डबल इंजन सरकार। हरीश रावत

उत्तरा न्यूज टीम

आतिशी ने कहा गुजरात भाजपा नेता दिल्ली का शिक्षा-स्वास्थ्य मॉडल देखने आए हैं, भाजपा का इनकार

Newsdesk Uttranews