उत्तरा न्यूज
अभी अभी

Almora: भारत छोड़ो आन्दोलन की 79वीं वर्षगांठ, ऐतिहासिक जेल अल्मोड़ा में स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों को दी श्रद्धांजलि

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

अल्मोड़ा। भारत छोड़ो आन्दोलन की 79वीं वर्षगांठ (अगस्त क्रांति) के अवसर पर ऐतिहासिक जेल अल्मोड़ा में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के चित्रों पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। 
 

इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान ने कहा कि 9 अगस्त, 1942 को भारत छोड़ो आन्दोलन की शुरूआत हुई थी जिसमें सभी ने बढ़चढ़ कर भागीदारी की और देश को आजादी दिलाने के लिए अपने प्राणों की आहूति दी। उन्होंने कहा कि हमें स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों के सपनों को साकार करते हुए नया भारत बनाने का संकल्प लेना होगा। उन्होंने कहा कि आने वाली पीढ़ियों को हमारे महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के योगदान को याद रखने के लिए इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है।

विधानसभा उपाध्यक्ष ने इस अवसर पर कहा कि इस ऐतिहासिक जेल में अनेक विभूतियों ने अपनी गिरफ्तारी देकर स्वत्रंता आन्दोलन को आगे बढ़ाया। हमारा प्रयास रहेगा कि हम अपने स्वतन्त्रता आन्दोलन में शहीद हुए लोगों के सपनों का साकार करने के लिए इस तरह के कार्य करें जिससे हमारी युवा पीढ़ी देश को एक नई दिशा की ओर ले जा सके। इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष ने कार्यक्रम से पूर्व ही अधिकारियों के चले जाने पर नाराजगी व्यक्त की।

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गॉधी द्वारा चलाये गये इस आन्दोलन को जो समर्थन मिला उसी का परिणाम आज हम आजादी के रूप में मना रहे है।  इससे पूर्व सभी लोगों ने नेहरू वार्ड में जाकर सभी स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों जिनमें देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू, गोविन्द बल्लभ पंत, हर गोविन्द पंत, विक्टर मोहन जोशी, खान अब्दुल गफ्फार खान, सैयद अली, देवीदत्त पंत, दुर्गा सिंह, बद्रीदत्त पाण्डे, आर्चाय नरेन्द्र देव सहित अन्य लोगो के चित्रों पर माल्यार्पण किया।
 

इस कार्यक्रम में पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने कहा कि भारत छोड़ो आन्दोलन हमारे इतिहास में एक मील का पत्थर है। महात्मा गॉधी की ‘करो या मरो’ के आह्वान से प्रेरित् होकर हर हिन्दुस्तानी ने भारत मां को आजादी दिलाने का संकल्प लिया था। उन्होंने कहा कि हमें अल्मोड़ा का नागरिक होने का सौभाग्य प्राप्त है। अल्मोड़ा का आजादी की लड़ाई में गौरवशाली इतिहास रहा है। 

इस अवसर पर पूर्व राज्य दर्जा मंत्री गोविन्द सिंह पिलख्वाल, इतिहास विभाग के डॉ. डी0पी0एस0 नेगी सहित अनेक लोगों ने अपनी बात रखते हुए भारत छोड़ो आन्दोलन के बारे में बताते हुए कहा कि हम सब संकल्प लें और कन्धे से कन्धा मिलाकर नये भारत का निर्माण करें जिस पर हमारे अमर स्वतन्त्रता सेनानियों को गर्व हो।

इस कार्यक्रम में एसएसपी पंकज भट्ट, एडीएम बीएल फिरमाल, कारागार अधीक्षक संजीव हृयांकी, उप अधीक्षक मेघराज सिंह, सभासद मनोज जोशी, अख्तर हुसैन, पूनम पालीवाल सहित अन्य अधिकारी व लोग मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन गिरीश मल्होत्रा ने किया।

Related posts

Uttarakhand- एलटी सहायक अध्यापक परीक्षा मामले में हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, अब इ​स तिथि तक जमा कर सकते है फॉर्म

Newsdesk Uttranews

अल्मोड़ा परिसर में दूसरे दिन भी जारी रहा हंगामा— छात्रसंघ अध्यक्ष व पदाधिकारियों ने परिसर निदेशक को सौंपा इस्तीफा,भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

Newsdesk Uttranews

एक्जिट पोल—— नतीजों से पहले की नूराकुश्ती, पांच राज्यों में कांग्रेस को मजबूती, भाजपा एंटीइंकमबेंसी की चपेट में