aipan

pithoragarh- aipan ko sawrojgar se jodne ke liye karyshala

पिथौरागढ़। पिथौरागढ की अग्रणी संस्था थियेटर फाॅर एजुकेशन इन मास सोसाइटी की ओर से कुमाऊँ की विलुप्त हो रही लोक संस्कृति ऐपण (aipan) को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए 20 दिवसीय कार्यशाला आयोजित की जा रही है।

IMG 20201216 WA0010

जिला मुख्यालय स्थित लंदन फोर्ट में आयोजित कार्यशाला के तीसरे दिन बुधवार को लक्ष्मी चौकी बनाई गई चौकी के भीतर वसुंधरा, हिमाचल, शंख, सूर्य, चंद्र, आदि बनाए गए।

अल्मोड़ा— रिक्त सरकारी पदों को भरने की मांग, उक्रांद (Ukd) ने सीएम को भेजा ज्ञापन


इस कार्यशाला में 30 प्रतिभागियों को निःशुल्क ऐपण का प्रशिक्षण दिया जा रहा है, जिसमें बच्चे ने उत्साहित होकर भागीदारी कर रहे हैं।

कार्यशाला के संचालक महेश चंद्र ने कहा ऐपण (aipan) कला हिमालय की विलुप्त होती ऐतिहासिक कलाओं में से एक है, जिसे स्वरोजगार से जोड़ने की कोशिश की गई है।

प्रशिक्षण दे रही ममता जोशी ने कहा कि इस कला को विलुप्त होने से बचाने के लिए सोसाइटी की टीम का यह प्रयास सराहनीय है। कार्यशाला में शुभम कार्की, मनोज आर्या आदि सहयोग कर रहे हैं।

Uttarakhand— नदी में ​गिरा ट्रक, 2 लापता रेसक्यू जारी

कृपया हमारे youtube चैनल को सब्सक्राइब करें