Almora- नेशनल डीवार्मिंग डे पर बच्चों को खिलाई जाएगी एलबेंडाजोल टैबलेट

editor1
3 Min Read

अल्मोड़ा। 05 अप्रैल, 2022- आगामी 18 अप्रैल को नेशनल डीवार्मिंग डे एवं एनीमिया मुक्त भारत अभियान कार्यक्रम के सफल संचालन के सम्बंध में एक बैठक मंगलवार को नवीन कलक्ट्रेट भवन सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता जिलाधिकारी वंदना ने की।

बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ आर सी पंत ने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत जिले में 1 से 19 वर्ष आयु के कुल 1 लाख 20 हजार बच्चों जो राजकीय विद्यालयों/मान्यता प्राप्त विद्यालयों/आंगनबाड़ी केंद्रों में अध्ययनरत तथा नामांकित एवं विद्यालय नहीं जाने वाले बच्चों हैं, उन्हें एलबेंडाजोल टैबलेट खिलाई जानी है। बताया कि जिले को कुल 1 लाख 50 हजार टैबलेट प्राप्त हुई हैं, जिन्हें विकास खण्ड स्तर पर खण्ड शिक्षा अधिकारी एवं परियोजना अधिकारी बाल विकास के माध्यम से ग्राम स्तर पर संबंधित को उपलब्ध कराई जा रही है। आगामी 18 अप्रैल को विद्यालयों में भी दवा खिलाई जाएंगी, जो उस दिन किसी कारण से छूट जाएंगे उन्हें 19 को खिलाई जाएगी। बोर्ड परीक्षार्थियों को 20 तथा 21 अप्रैल को खिलाई जाएगी।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि समय पर दवा वितरित कराने के साथ ही दवा खाने से पूर्व व बाद में क्या करें क्या न करें, उसके बारे में लिखित में स्पष्ट रूप से सभी तक जानकारी उपलब्ध कराई जाय। शिक्षा विभाग सरल एवं स्पष्ट भाषा में सभी स्कूलों को आवश्यक निर्देश जारी कर लें। जिलाधिकारी ने कहा कि 18 अप्रैल को सभी एमओआईसी अलर्ट रहें। एम्बुलेंस तैनात रहे।

बैठक में एनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम अंतर्गत की जा रही आवश्यक तैयारी के संबंध में जिलाधिकारी ने कहा कि जिले को एनिमिक मुक्त जिला बनाना है इस हेतु जिले में जितने भी एनिमिक बच्चे चिह्नित हैं उनकी सूची सभी वैलनेस सेंटर को उपलब्ध कराई जाए ताकि वह नियमित रूप से उनकी काउंसलिंग कर सकें तथा उन्हें खान-पान हेतु उचित सलाह दें।

उन्होंने कहा कि कक्षा 9 से 12 तक के अध्ययनरत बच्चों में एनिमिक की अधिक सम्भावना होती है इन सभी का विशेष ध्यान रखा जाय।
बैठक में बताया कि हीमोग्लोबिन हमारे खून में पाया जाता है और हमारे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाता है। खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा का एक स्तर से कम हो जाना अनीमिया कहलाता है। जिसके लक्षण त्वचा, चेहरे, जीब व आंखों में लालीमां की कमी,काम करने में जल्दी थकावट हो जाना,सांस फूलना या घुटन होना होता है।भोजन में आयरन की कमी होना, पेट में कीड़े होना व पीने के पानी मे फ्लोरोसिस की मात्रा अधिक अनीमिया का कारण हो सकता हैं। बैठक में स्वास्थ्य, शिक्षा, बाल विकास सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Joinsub_watsapp