Join WhatsApp

News-web

सरकारी अफसर समेत 21 लोग हुए गिरफ्तार, 10 से 15 साल लड़कियों से करा रहे थे वेश्यावृत्ति

Published on:

पूर्वोत्तर के राज्य अरुणाचल प्रदेश में एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है।बताया जा रहा है कि यहां सूबे में छोटे-छोटे बच्चियों से वेश्यावृत्ति कराई जा रही थी और इस केस में अब कई लोग गिरफ्तार हुए हैं जिसमें 11 सरकारी अधिकारी भी शामिल है। अरुणाचल प्रदेश पुलिस ने अंतर राज्य वेश्यावृत्ति ग्रहण में शामिल सरकारी अधिकारियों समेत 21 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के एक सीनियर अफसर ने बुधवार को कहा कि इस मामले में सूबे की पुलिस ने 10 से 15 साल उम्र की 5 नाबालिग लड़कियों को मुक्त कराया है।

पुलिस ने छापा मारकर लड़कियों को बचाया

पुलिस अधिकारियों ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि गिरफ्तार किए गए अधिकारियों में एक पुलिस उपाधीक्षक और स्वास्थ्य सेवाओं का उपनिदेशक शामिल है। ईटानगर की पुलिस अधीक्षक रोहित राजवीर सिंह ने कहा की राजधानी में ब्यूटी पार्लर चलाने वाली दो बहने पड़ोसी राज्य असम के धेमाजी से नाबालिग लड़कियों को तस्करी कर राज्य में ला रही थीं। उन्होंने कहा कि यहां पास में चिंपू में नाबालिग लड़कियों से जुड़ा एक वेश्यावृत्ति गिरोह सक्रिय होने की जानकारी मिलने के बाद पुलिस टीम ने 4 मई को 2 बहनों के घर पर छापा मारा और 2 नाबालिग लड़कियों को मुक्त कराया।

मामले में 5 सरकारी अधिकारी भी हुए गिरफ्तार

एसपी का कहना है की नाबालिक लड़कियों ने कहा कि उन्हें दो बहने धेमाजी से ईटानगर लेकर आई थी। इसके बाद धीमा जी से तस्करी करके लाई गई दो नाबालिक लड़कियों के बारे में भी पता चला जो एक महिला के चंगुल में थी और बाद में उसे भी मुक्त कराया गया। पुलिस टीम को यह भी पता चला कि आरोपी एक और नाबालिक लड़की की तस्करी कर रहे हैं जिसके पास होटल में छापेमारी की गई और लड़की को मुक्त कराया गया। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि वेश्यावृत्ति रैकेट में शामिल कम से कम 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि 5 सरकारी अधिकारियों सहित 11 ग्राहकों को भी गिरफ्त में लिया गया है।