News-web

30 जून से इन प्लेटफॉर्म्स से नहीं कर पाएंगे क्रेडिट कार्ड के जरिए बिल पेमेंट, जाने क्या है कारण

Published on:

Credit Card Payment: 30 जून के बाद कुछ प्लेटफार्म से क्रेडिट कार्ड बिल पेमेंट करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। फोनपे, क्रेड (Cred), बिलडेस्क और Infibeam एवेन्यू कुछ प्रमुख फिनटेक हैं, जिन पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नए नियमों का असर पड़ सकता है।

PhonePe, Cred, BillDesk के प्लेटफॉर्म के जरिये क्रेडिट कार्ड बिल पेमेंट पर असर पड़ेगा। भारतीय रिजर्व बैंक ने पहले निर्देश दिया था कि 30 जून के बाद सभी क्रेडिट कार्ड पेमेंट भारत बिल पेमेंट प्रणाली के माध्यम से ही की जाएगी। अब तक एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक ने BBPS एक्टिव नहीं किया है। इन बैंकों ने ग्राहकों को कुल मिलाकर 5 करोड़ से अधिक क्रेडिट कार्ड जारी किए हैं।

हालांकि इन बैंकों ने अभी तक निर्देशों का पालन नहीं किया। फोनपे और क्रेड जैसे फिनटेक, जो पहले से ही बीबीपीएस के सदस्य हैं, वे भी 30 जून के बाद उनके लिए क्रेडिट कार्ड बकाया पर पेमेंट की प्रक्रिया नहीं कर पाएंगे। इसलिए, बैंकों को इसका पालन करने की आवश्यकता है। इन फिनटेक को बिना किसी परेशानी के ऑपरेट करने के लिए नियमों का पालन करना होगा। आरबीआई के ये नियम 30 जून तक वैलिड है।

बताया जा रहा है कि पेमेंट इंडस्ट्री ने इस समय सीमा को 90 दिनों तक बढ़ाने की मांग की है। वहीं अब तक केवल आठ बैंकों ने बीबीपीएस पर बिल पेमेंट एक्टिव किया है जबकि कुल 34 बैंकों को क्रेडिट कार्ड जारी करने की अनुमति है।

बीबीपीएस को सक्रिय करने वाले बैंकों की गिनती में एसबीआई कार्ड, बीओबी कार्ड, इंडसइंड बैंक, फेडरल बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक शामिल हैं। इंडस्ट्री के मुताबिक केंद्रीय बैंक को धोखाधड़ी वाले ट्रांजेक्शन को ट्रैक करने और हल करने की अनुमति देने के अलावा, आरबीआई को पेमेंट ट्रेंड्स पर नजर रखने की जरूरत है।