Join WhatsApp Group

News-web

क्या ऊधमसिंह नगर जिला बनेगा उत्तराखंड का नया न्यायिक केंद्र?

Published on:

News

हाईकोर्ट की शिफ्टिंग का मुद्दा गरमाया हुआ है। हाईकोर्ट ने मुख्य सचिव को उच्च न्यायालय के लिए उचित भूमि का विकल्प बताने का निर्देश दिया है। ऐसे में ऊधमसिंह नगर जिला,अपनी बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर और सुविधाओं के चलते, हाईकोर्ट के लिए एक मज़बूत दावेदार के रूप में उभर रहा है।


बता दे, पंतनगर एयरपोर्ट, विस्तृत रेल नेटवर्क, बेहतर सड़कें,ऊधमसिंह नगर को कनेक्टिविटी के मामले में अन्य शहरों से आगे रखते हैं।रुद्रपुर का जिला अस्पताल, किच्छा में प्रस्तावित एम्स,रुद्रपुर में बन रहा मेडिकल कॉलेज, ऊधमसिंह नगर को स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में भी अग्रणी बनाते हैं। किच्छा और काशीपुर में विशाल भू-भाग हाईकोर्ट के लिए पर्याप्त जगह प्रदान करते हैं। हरिद्वार, देहरादून, नैनीताल, भीमताल जैसे प्रमुख शहरों तक पहुँचने के लिए ऊधमसिंह नगर एक आदर्श केंद्रबिंदु है।


जिला बार एसोसिएशन उधम सिंह नगर के अध्यक्ष दिवाकर पांडे,ऊधमसिंह नगर जिले को हाईकोर्ट के लिए सबसे उपयुक्त स्थल मानते हैं।उनके अनुसार,यहाँ सभी आवश्यक सुविधाएँ रेल,हवाई सेवा,टैक्सी,बस,होटल,धर्मशालाएँ,पर्याप्त पार्किंग मौजूद हैं।


ऊधमसिंह नगर जिले में हाईकोर्ट बनाए जाने के पक्षकारों का कहना है कि रूद्रपुर पहले से ही उत्तराखंड के प्रमुख औद्योगिक केंद्रों में से एक है। हाईकोर्ट का यहाँ स्थापित होना,इस क्षेत्र के विकास को और गति प्रदान करेगा।