News-web

पत्नी का कर दिया अंतिम संस्कार लेकिन 600 किलोमीटर दूर झांसी में मिली वह जिंदा, जानिए इस फिल्मी कहानी के पीछे की सच्चाई

Published on:

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में हत्या के बाद मिले महिला के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया लेकिन वह 600 किलोमीटर दूर झांसी में जिंदा मिली। इस पूरे मामले में नया मोड़ आने के बाद यूपी पुलिस भी परेशान हो गई है। अब सब यह जानना चाहते हैं कि आखिर मृतक का कौन थी?

दरअसल, गोरखपुर के बांसगांव निवासी राम सुमेर (60) ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनकी पत्नी फूलमती (40) 15 जून को लापता हो गई थी। ठीक चार दिन बाद 19 जून को उरुवा बाजार इलाके में एक महिला का शव मिला।

पुलिस का कहना है कि सुमेर ने शव की पहचान अपनी पत्नी फूलमती के रूप में की और उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। हालांकि मामले ने रहस्यमई मोड़ तब लिया जब पोस्टमार्टम में यह पता चला कि महिला की हत्या गला घोटकर कर दी गई है। जिसके बाद इसकी जांच शुरू की गई।

संदिग्ध हत्यारे को पकड़ने के लिए पुलिस ने फूलमती के मोबाइल फोन को ट्रेस किया जो झांसी में लगभग 600 किलोमीटर दूर एक्टिव भी पाया गया। कॉल रिकॉर्ड से पता चला कि फूलमती और सुल्तानपुर के शुभम नामक व्यक्ति के नंबर के बीच लगातार बातचीत होती थी। पूछताछ के दौरान शुभम ने पुलिस को बताया कि फूलमती जीवित है और वह उसे झांसी लेकर आया है। इसके बाद पुलिस ने शुभम के बताए गए पते पर उसे ढूंढ निकाला।

पति सुमर ने पुलिस को बताया कि फूलमती 15 जून को अपने मायके से उसके घर लौट के लिए निकली थी लेकिन वह नहीं लौटी। काफी खोजबीन के बाद थाने में उसकी पत्नी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई।

SP (दक्षिण) जितेंद्र कुमार तोमर ने बताया, महिला का बयान दर्ज करने के बाद शनिवार को उसे उसके पति के पास वापस भेज दिया गया। पुलिस अब सुमेर, फूलमती, शुभम और जिस महिला का अंतिम संस्कार किया गया था, उसके बीच संबंध का पता लगाने के लिए जांच चल रही है।

पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी हासिल की है, जिसमें एक लड़का संदिग्ध रूप से घूमता हुआ दिखाई दे रहा है और मामले की नए सिरे से जांच की जा रही है।