News-web

क्या है भारत की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा UPSC और कैसे होता है चयन

Updated on:

upsc exam

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) भारत की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक है। इस परीक्षा के माध्यम से सिविल सेवा में भर्ती होती है। इनमें में भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS), भारतीय विदेश सेवा (IFS) और अन्य केंद्रीय सेवाएं शामिल हैं। यह परीक्षा उन छात्रों के लिए एक सपना होती है जो देश सेवा करना चाहते हैं और प्रशासनिक पदों पर कार्य करना चाहते हैं।

चारधाम यात्रा के लिए ऑफलाइन पंजीकरण पर 31 मई तक लगी रोक


तीन चरणों में आयोजित की जाती है UPSC परीक्षा
UPSC सिविल सेवा परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है: प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination), मुख्य परीक्षा (Main Examination), और साक्षात्कार (Interview)।
प्रारंभिक परीक्षा: यह परीक्षा सामान्य अध्ययन और CSAT (सिविल सेवा एप्टीट्यूड टेस्ट) पर आधारित होती है। इसमें दो पेपर होते हैं, और यह परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रकार (Objective Type) की होती है। सामान्य अध्ययन के पेपर में भारतीय इतिहास, भूगोल, राजनीति, अर्थव्यवस्था, पर्यावरण, और विज्ञान जैसे विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं। CSAT पेपर में गणित, तर्कशक्ति, और अंग्रेजी भाषा के कौशल का मूल्यांकन किया जाता है।


मुख्य परीक्षा: UPSC परीक्षा वर्णात्मक प्रकार (Descriptive Type) की होती है और इसमें नौ पेपर होते हैं। इसमें एक निबंध पेपर, चार सामान्य अध्ययन के पेपर, दो वैकल्पिक विषय के पेपर और दो भाषा के पेपर होते हैं। भाषा के पेपर में एक भारतीय भाषा और एक अंग्रेजी होती है, जो केवल योग्यता परीक्षा (Qualifying) होती है।


साक्षात्कार: UPSC
मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। साक्षात्कार का उद्देश्य उम्मीदवार की व्यक्तित्व, विचारशीलता, और नेतृत्व क्षमताओं का मूल्यांकन करना होता है। इसमें उम्मीदवार की सामान्य ज्ञान, स्थिति संभालने की क्षमता, और संचार कौशल की जांच की जाती है।


कैसे करें UPSC की तैयारी:


UPSC की तैयारी के लिए एक सही रणनीति का होना बहुत आवश्यक है। यहाँ कुछ महत्वपूर्ण बिंदु हैं जिससे तैयारी में मदद मिल सकती है।
समय का सही मैनेजमेंट समय का सही मैनेजमेंट करें और एक समय-सारणी बनाएं। रि दिन पढ़ाई के लिए कुछ घंटे निर्धारित करें और उन्हें कड़ाई से पालन करें।


सही अध्ययन सामग्री का चुनाव: अच्छी गुणवत्ता की किताबें और अध्ययन सामग्री UPSC परीक्षा के लिए जरूरी है। एनसीईआरटी की पुस्तकों का अध्ययन करें, इससे बुनियादी ज्ञान को बढ़ाने में मदद मिलेगी।
नियमित अभ्यास की आदत डाले: पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों का अभ्यास करें और मॉक टेस्ट दें। इससे परीक्षा पैटर्न समझने में मदद मिलती है और समय प्रबंधन में सुधार होता है।


नियमित रूप से पढ़े समाचार पत्र और पत्रिकाएँ : नियमित रूप से समाचार पत्र पढ़ें और समसामयिक घटनाओं से अवगत रहें। इससे सामान्य अध्ययन और निबंध पेपर में मदद मिलती है।
स्वास्थ्य का रखें ध्यान: शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखें। नियमित व्यायाम और योग करें जिससे तनाव दूर रहे और ध्यान केंद्रित करने में मदद मिले।


UPSC सिविल सेवा परीक्षा एक चुनौतीपूर्ण परीक्षा है, लेकिन सही तैयारी, समर्पण और निरंतरता से इसे सफलतापूर्वक उत्तीर्ण किया जा सकता है। यह परीक्षा न केवल एक करियर बनाने का माध्यम है, बल्कि देश सेवा करने का एक सुनहरा अवसर भी प्रदान करती है। उम्मीदवारों को धैर्य, आत्मविश्वास और सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ अपनी तैयारी करनी चाहिए।