रामगढ़ में उद्यान विभाग की जमीन को कंपनियों को देने का विरोध शुरू, कांग्रेस का भी मिला साथ

editor1
2 Min Read

नैनीताल। नैनीताल जिले के रामगढ़ क्षेत्र में उद्यान विभाग की करीब 4.4 एकड़ भूमि औद्योगिक विकास विभाग को निशुल्क हस्तांतरित करने के विरोध में ग्रामीणों, व्यापारियों, किसानों द्वारा आंदोलन एवं अनिश्चितकालीन अनशन व प्रदर्शन जारी है। वहीं अब मामले को लेकर विपक्षी पार्टी कांग्रेस भी जनता के समर्थन में आ गई है। शुक्रवार को नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने आंदोलन स्थल पर पहुंचकर प्रदर्शनकारियों को अपना समर्थन दिया।

इस दौरान आर्य ने कहा कि उत्तराखंड के उद्यान विभाग की आंख कहे जाने वाले रामगढ़ राजकीय उद्यान की जमीन को सिडकुल जैसी कंपनियों के हाथों में दिया जाना प्रदेश सरकार का गलत निर्णय है। इस निर्णय को तत्काल प्रभाव से राज्य सरकार को वापस लेना चाहिए। कहा कि जिस भूमि को फल पट्टी क्षेत्र के रूप में विकसित किया गया है उसी भूमि को सिडकुल को निशुल्क हस्तांतरित करना सरकार और शासन प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर रहा है।

कहा कि रामगढ़ में बाहरी उद्योगपतियों को लाकर होटल खोलने की योजना को सफल नहीं होने दिया जाएगा। आर्य ने कहा कि उत्तराखंड का निर्माण हिमाचल की तर्ज पर विकसित करने के उद्देश्य से किया गया था, लेकिन सरकार भूमि व संसाधनों को बेचने का काम कर रही हैं।

Joinsub_watsapp