अंकिता भंडारी हत्याकांड के मुख्य आरोपी के पिता पूर्व राज्यमंत्री विनोद आर्य से पुलिस ने की पूछताछ, नौकर से कुकर्म के प्रयास का है आरोप

editor1
2 Min Read

देहरादून। उत्तराखंड के बहुचर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड के मुख्य आरोपी पुलकित आर्य के पिता पूर्व राज्यमंत्री डॉ. विनोद आर्य पर कुकर्म के प्रयास का मुकदमा दर्ज होने के बाद आज पुलिस ने आर्य से चार घंटे पूछताछ की है। इस दौरान डॉ. आर्य करीब 19 घंटे पुलिस की हिरासत में रहे। वहीं, आरोप लगाने वाले पीड़ित के कोर्ट में धारा 164 के बयान दर्ज कराए गए। पुलिस को देर रात तक कोर्ट में दिए बयानों की प्रमाणित कॉपी नहीं मिल सकी जिसके चलते डा. विनोद आर्य को परिजनों के सुपुर्द करना पड़ा। बयान की कॉपी मिलने पर बृहस्पतिवार को डा. विनोद आर्य की गिरफ्तारी हो सकती है।

बताते चलें कि मंगलवार को सहारनपुर के छुटमलपुर निवासी एक युवक ने डॉ. विनोद आर्य के खिलाफ ज्वालापुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। डाक के माध्यम से पुलिस को भेजी गई शिकायत में बताया गया था कि एक माह पहले उसने 10 हजार रुपये महीना विनोद आर्य के यहां नौकरी की शुरुआत की। आरोप है कि विनोद उसे कमरे में बुलाकर मालिश करवाते हुए अश्लील हरकतें करने लगा। कुछ दिन पहले जबरन कुकर्म करने का प्रयास किया। गाली-गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए मारपीट की। जिसके बाद वह अपने गांव चला गया।