उत्तरा न्यूज
अभी अभी उत्तराखंड

uttarakhand: चम्पावत से चुनाव लड़ेगे सीएम धामी, चम्पावत के विधायक गहतोड़ी ने दिया इस्तीफा

uttarakhand: CM Dhami will contest from Champawat

देहरादून, 20 अप्रैल 2022-


चंपावत के विधायक कैलाश गहतोड़ी ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है, विधानसभा अध्यक्ष को उन्होंने अपना इस्तीफा सौंपा, जिसे स्वीकार कर लिया गया है।
इसके साथ ही यह भी स्पष्ट हो गया है कि धामी चुनाव कहां से लड़ेंगे। मुख्यमंत्री धामी के लिए गहतोड़ी ने अपनी सीट छोड़ दी है। यही नहीं कांग्रेस विधायकों के सीट छोड़े जाने की अफवाहो पर विराम लग गया है।


चंपावत से भाजपा के विधायक कैलाश गहतोड़ी ने अपना इस्तीफा आज विधानसभा अध्यक्ष को सौंप दिया है। गहतोड़ी ने बताया कि संगठन ने उन पर विश्वास जताया था जिसके बाद ही वह अपने क्षेत्र से जीत दर्ज करके विधानसभा तक पहुंचे हैं। ऐसे में यदि क्षेत्र को मुख्यमंत्री मिलते हैं तो क्षेत्र का चहुंमुखी विकास होगा। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता भी उनके इस कदम से खुश है और मुख्यमंत्री को भारी मतों से विजयी बनाने में अपनी भूमिका निभायेगी।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को अपनी विधानसभा सीट चंपावत से चुनाव लड़ाने का ऑफर देने वाले विधायक कैलाश गहतोड़ी ने आज विधानसभा अध्यक्ष की आवास पहुंचकर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। विधानसभा अध्यक्ष ने भी उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है।


आज सुबह भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष कैबिनेट मदन कौशिक, मंत्री चंदन राम दास, सौरभ बहुगुणा और गणेश जोशी समेत भाजपा विधायक भी विधानसभा अध्यक्ष के आवास पहुंचे।। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी ने कहा कि चंपावत से भाजपा विधायक कैलाश गहतोड़ी ने अपना इस्तीफा उन्हें सौंपा है जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है।


चंपावत विधायक कैलाश गहतोड़ी के इस्तीफे के बाद अब स्थिति स्पष्ट हो गई है कि मुख्यमंत्री चंपावत से ही चुनाव लड़ने जा रहे हैं । भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि पार्टी संगठन के बीच हुई बैठक के बाद कैलाश गहतोड़ी ने अपनी विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।


अब मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी चंपावत से चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि चंपावत में कार्यकर्ताओं के मध्य हुई बैठक के बाद उन्होंने पार्टी हाईकमान को अपना प्रस्ताव दिया था जिसके बाद पार्टी हाईकमान ने भी उनकी प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए मुख्यमंत्री को वहां से चुनाव लड़ाने का फैसला किया है।


इधर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा की उन्हें चम्पावत में उपचुनाव लड़ने के लिये पूर्णागिरी देवी ने बुलाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतिनिधि रहते हुए उन्होंने क्षेत्र का समग्र विकास किया है साथ ही उन्होंने कैलाश गहतोड़ी का आभार भी जताया।

Related posts

खनन कारोबारी जनार्दन रेड्डी ने पालतू कुत्ते के साथ देखी 777 चार्ली

Newsdesk Uttranews

जन्तर मंतर पर प्रस्तावित प्रदर्शन के लिए रवाना हुए कर्मचारी, पुरानी पैंशन बहाली की कर रहे मांग

झारखंड अलग राज्य के आंदोलनकारियों की पहचान का अभियान शुरू, आश्रितों के लिए नौकरी, आरक्षण और पेंशन की योजना

Newsdesk Uttranews