बच्चोें के लिए काम की खबर,उत्तराखण्ड में 1 दिन होगा बैग फ्री डे

Newsdesk Uttranews
2 Min Read

देहरादून। स्कूली बच्चों का तनाव कम करने के लिए महीने में एक दिन बच्चे बिना बैग के स्कूल आएंगे। इसके लिए महीने में एक दिन बैग फ्री डे निर्धारित होगा।


शिक्षा मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने बुधवार को उत्तराखंड अकादमिक शोध एवं प्रशिक्षण निदेशालय और एससीईआरटी द्वारा आयोजित एनईपी- 2020 कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में यह बात कहीं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में स्कूली बच्चों के भारी-भरकम बस्तों का बोझ कम करने के लिये राज्य में संचालित सभी शिक्षा बोर्ड के साथ सरकार विचार-विमर्श करेगी।


मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में स्कूली बच्चों के बस्तों का बोझ उनके वजन से भी ज्यादा बढ़ गया है, जिसको कम करना उनके सर्वांगीण विकास के लिये आवश्यक हो गया है। वहीं बोझ कम करने के लिए पाठ्यक्रम को त्रिमासिक एवं अर्द्धवार्षिक के हिसाब से बांटते हुये पाठ्य पुस्तकों एवं नोट बुक्स का चयन भी किया जा सकता है।


शिक्षा मंत्री ने कहा कि निकट भविष्य में राज्य में संचालित विभिन्न बोड़ों के साथ टीचिंग शेयरिंग को लेकर अनुबंध किया जायेगा ताकि अच्छे शिक्षकों को एक-दूसरे बोर्ड के स्कूलों में शिक्षण कार्य के लिये बुलाया जा सकेगा, जिसका फायदा छात्र- छात्राओं को मिलेगा। कार्यशाला में सचिव विद्यालयी शिक्षा रविनाथ रमन ने कहा कि राज्य में एनईपी 2020 को लेकर जनपदों में भी कार्याशालाओं का आयोजन किया जाएगा।

Joinsub_watsapp