shishu-mandir

अगर आप भी अपनी बेटी के भविष्य के लिए करना चाहते हैं निवेश, तो हर महीने बचाए 500 और बदले में 2.5 लाख से ज्यादा हो जाएंगे जमा

उत्तरा न्यूज टीम
4 Min Read
Screenshot-5

बेटी का पिता उसके पैदा होने के बाद से ही उसके शादी के लिए धन संजोने लगता है। अगर आप भी एक बेटी के पिता है तो इस बात को बखूबी समझते होंगे और बेटी की भविष्य के लिए कहीं न कहीं निवेश करना चाहते होंगे। तो आज हम आपको बताएंगे सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में

new-modern
gyan-vigyan

इस योजना को सरकार ने बेटियों के लिए शुरू किया था। यह एक ऐसी योजना जिसमें गारंटी के साथ रिटर्न मिलता है। इस योजना से आप अपनी बेटी की शादी या एजुकेशन के लिए मोटा फंड तैयार कर सकते हैं। इस योजना की खास बात यह है कि इसमें 250 रुपये से निवेश शुरू किया जा सकता है।

इसमें ब्‍याज भी अन्‍य योजनाओं के मुकाबले अच्छी मिलती है। इसके साथ ही टैक्स छूट में लाभ भी मिलता है। अन्य स्माल सेविंग स्कीम्स (small savings schemes) के मुकाबले में इसमें बेहतर रिटर्न मिलता है। सरकार सुकन्या स्मृद्धि योजना पर 7.6 फीसदी सालाना दर से ब्याज दे रही है। एक फाइनेंशियल ईयर में ज्यादा से ज्यादा 1.5 लाख रुपये निवेश किए जा सकते हैं। वहीं अकाउंट ओपन होने के बाद अगर किसी भी फाइनेंशियल ईयर में कम से कम 250 का निवेश नहीं किया जाता है तो 50 रुपये का जुर्माना लग जाएगा।

इस सरकारी योजना में किसी भी तरह का कोई जोखिम नहीं रहता है। बेटी की 21 साल की उम्र होने पर यह योजना मैच्योर हो जाएगी। इस योजना में आपको पूरे 21 साल तक पैसे नहीं जमा करना होता है। अकाउंट खोलने से लेकर 15 साल तक ही पैसे जमा किए जा सकते हैं।

जबकि बेटी को 21 साल की उम्र तक ब्याज मिलता रहेगा। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता किसी पोस्ट ऑफिस या बैंक में खाता खुलवा सकते हैं।
कितना मिलेगा रिटर्न अगर आप बेटी की उम्र 1 साल है और उसके नाम से हर महीने 500 रुपये जमा करते हैं तो एक साल में कुल जमा राशि 6000 रुपये होगी। जब बेटी की उम्र 22 साल होगी तब निवेश 90,000 रुपये हो जाएगा।

आपको 1,64,606 रुपये ब्याज मिलेगा। कुल मिलाकर 21 साल बाद आपको 2,54,606 रुपये मैच्योरिटी पर मिलेगा। कब निकाल सकते हैं पैसे यह योजना तब मैच्योर होगी, जब बेटी 21 साल की हो जाएगी। इसमें जमा कराए गए पैसे को बिटिया के 18 साल की होने पर ही निकाला जा सकता है।

18 साल के बाद भी इस योजना से कुल राशि का 50 फीसदी हिस्‍सा ही निकाला जा सकता है। बेटी के 21 साल के होने पर पूरा पैसा निकाल सकते हैं। पैसा एकमुश्त या फिर किश्तों (instalments) में ले सकते हैं। एक साल में एक ही बार पैसा मिलेगा।

अधिकतम पांच साल तक किश्त में पैसे ले सकते हैं। इस योजना के तहत मैच्योरिटी पीरियड से पहले पैसा निकाल सकते हैं। लेकिन शर्त यह है कि 15 साल तक पैसा जमा करना जरूरी है। तभी ये सुविधा मिलेगी। पैसे निकालने के लिए रिक्वेस्ट फॉर्म के साथ लड़की की आईडी लगाना जरूरी है।