कमतोली विद्यालय में नवाचार, सांस्कृतिक वाटिका का विद्यार्थी करते हैं रखरखाव

UTTRA NEWS DESK
1 Min Read

पिथौरागढ़। जनपद में कनालीछीना ब्लाक के राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय कमतोली में शिक्षकों ने यूथ एवं ईको क्लब के तहत एक नवाचार किया है। इसमें प्रधानाचार्या लीला धामी के संरक्षण में विद्यालय में एक सांस्कृतिक वाटिका निर्मित की गई है। इस संदर्भ में कार्यक्रम के निर्देशक डा. सीबी जोशी ने कहा कि प्राचीन काल से ही लोग उपयोगी वृक्ष – पादपों की पूजा करते थे। इनके प्रति वैज्ञानिक तथ्य और शोध को सामने लाने के लिए आयुष वाटिका, पुष्प वाटिका, नवग्रह वाटिका , पंचवटी, शदाशिव वाटिका, श्रीहरिशाटिका पंचपल्लव आदि सात वाटिकायें बनाई गयी हैं।

अधिवास, औषधीय प्रभाव, फलोत्पादन, आक्सीजन उत्सर्जन की तीव्रता व भूस्खलन को रोकने की उपादेयता के मद्देनजर इनके प्रति वैज्ञानिक दृष्टिकोण विकसित करने के उद्देश्य से ये वाटिकायें बनायी गयी हैं। वाटिकाओं का नियमित रखरखाव विद्यालय के छात्र छात्राओं द्वारा किया जाता है । इन छात्र छात्राओं में निशा, मनीष, राशि, पलक भट्ट, कमल कापड़ी आदि की प्रमुख भूमिका रहती है।