Almora – State agitators protest against government

अल्मोड़ा 09 नवम्बर 2020- उत्तराखण्ड राज्य आंदोलनकारियों (State agitators)ने गांधी पार्क मे राज्य का 21वा स्थापना दिवस मनाते हुए राज्य की जनता को बधाई दी वहीं राज्य बनने के 20 वर्ष बाद भी शहीदों व राज्य आंदोलनकारियों (State agitators)के सपनो का राज्य न बन पाने तथा राज्य मे बारी बारी सत्ता मे आयी कांग्रेस भाजपा की सरकारों द्वारा राज्य आंदोलनकारियों की निरन्तर उपेक्षा के विरोध मे धरना भी दिया|

State agitators

इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि राज्य के युवाओं को पहाड़ में ही रोजगार देने राज्य की जनता को शिक्षा स्वास्थ्य की बेहतर सेवायें प्रदान करने तथा जिस विकास की अवधारणा के लिए राज्य की स्थापना की गयी थी उस दिशा मे कार्य करना तो दूर सरकारे उस दिशा मे सकारात्मक सोच भी नही दिखा पा रही है|

State agitators

राज्य आंदोलनकारियों (State agitators)को केवल नाममात्र की सुविधा और पैशन दी जा रही है तो शहीदों के कातिलो को न तो सजा सरकार दिला पायी है और न ही उनकी स्मृति बने शहीद स्थलो को बचा पा रही है राज्य बनने के बाद जो थोडा बहुत विकास हुआ है उद्योग लगे है वे केवल 2-3 जिलों तक ही सीमित है जो सड़के आदि बन रही है वे परिवहन की सुविधा से वंचित है पर्वतीय क्षेत्र से जनता का पलायन पहले से और अधिक तेज हो गया है लेकिन सरकार उस ओर आँख मुदे बैठी है शहीदों राज्य आंदोलनकारियों (State agitators)के सपनो का राज्य बनाने के लिए राज्य आंदोलनकारियों को पुनः एक और आन्दोलन करना होगा इसके लिए वक्ताओं ने सभी राज्य आंदोलनकारियों से एकजुट होने की अपील भी की।

धरने मे ब्रहमानंद डालाकोटी शिवराज बनौला, बसंतबल्लभ जोशी, पूरन भण्डारी, नवीन डालाकोटी, दौलत सिंह बग्ड्वाल, रमेश सिंह, पूरन सिंह बिष्ट, विक्रम बिष्ट, जीवन चन्द्र जोशी, तारा दत्त भट्ट, नारायण राम,भारतभूषण पाण्डेय, कृष्ण चन्द्र डालाकोटी,महेश पाण्डेय, गोपाल सिंह गैड़ा, शंकर दत्त डालाकोटी, अर्जुन सिंह, हरीश राम, टीका सिंह, खष्टीबल्लभ, मदन राम,पंकज सिंह, दीवान राम तारा देवी आदि उपस्थित थे।

ताजा अपडेट को हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw