विशेष- बीते 8 साल में सरकारी बैंकों में खाली हुए 1.06 लाख पद

editor1
1 Min Read

दिल्ली। देश के सरकारी बैंकों में पिछले 8 साल में 1.06 लाख पद खाली हुए हैं। जानकारी के अनुसार वर्ष 2012-13 में सरकारी बैंकों में कर्मचारियों की संख्या 8.86 लाख थी, जो वित्त वर्ष 2020-21 में घटकर 7.80 लाख रह गई। कर्मचारियों की संख्या में कमी को देखते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सरकारी बैंकों के प्रमुखों से खाली पदों को जल्द भरने और इसकी प्रक्रिया में तेजी लाने का निर्देश दिया है।

वित्त मंत्रालय ने इसी महीने बैंकों में खाली पदों की समीक्षा की थी। उसके बाद यह निर्देश दिया है। इसके बाद बैंकों ने अब विज्ञापन देना शुरू कर दिया है। दरअसल, कोरोना के कारण बैंकों में भर्ती प्रक्रिया बाधित हुई थी। इससे खाली पदों पर भर्ती नहीं हो पाई थी।

वहीं सभी सरकारी बैंक अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित खाली पदों को भरने के लिए 2 अक्तूबर से विशेष अभियान शुरू करेंगे। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग (एनसीएससी) के अध्यक्ष विजय सांपला ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और बैंकों के प्रमुखों के साथ एक बैठक के बाद यह फैसला लिया गया है। इसके लिए बैंक शाखाओं को लक्ष्य दिया जाएगा।

adbanner