shishu-mandir

अल्मोड़ा के शैंकी दिखाएंगे खजुराहो नृत्य समारोह में अपना जौहर

editor1
2 Min Read
Screenshot-5

new-modern
holy-ange-school

Almora::Student of Bhatkhande Hindustani Music College, Almora selected for Khajuraho dance festival

gyan-vigyan

अल्मोड़ा, 17 फरवरी 2024- भातखंडे संगीत महाविद्यालय के पूर्व छात्र शैंकी सिंह का खजुराहो नृत्य समारोह में नृत्य के लिए हुआ है।शैंकी का 20 से 26 फरवरी तक होने वाले खजुराहो नृत्य समारोह में डांस के लिए चयन हुआ है। शैंकी सिंह वर्तमान में पंडित बिरजू महाराज के कलाश्रम में एक रेजीडेंट फैकल्टी तथा कथक कला की बारीकियों और सूक्ष्मताओं में माहिर हैं।


एक बालक, जिसने 7 वर्ष की कम आयु में ही एक नर्तक बनने के लक्ष्य के प्रति स्वयं को समर्पित कर दिया। उन्होंने चंचल तिवारी से कथक में अपना प्रारंभिक प्रशिक्षण भातखंडे हिन्दुस्तानी संगीत महाविद्यालय अल्मोड़ा से प्राप्त किया।

उनके मार्गदर्शन में मेधावी ढंग से अपना विशारद और निपुण पूरा किया। इसके साथ ही, उन्होंने भरतनाट्यम, भारतीय लोक नृत्यों में विशारद के साथ-साथ मयूरभंज छाऊ में डिप्लोमा भी पूरा किया। कथक में उन्हें अपनी मूल भाषा और संस्कृति के साथ प्रतिध्वनि मिली, जिसने उन्हें और अधिक गहराई तक शोध करने के लिए प्रेरित किया।

उन्होंने पंडित बिरजू महाराज द्वारा कोरियोग्राफ किए गए विभिन्न नृत्य नाटकों में प्रदर्शन भी किया है। उनमें से उल्लेखनीय हैं मीरा हरि रंग रची, नाद गुंजन, घुंघरू संगीत, कथा रघुनाथ की, कथक यात्रा, कृष्णा कथा, आदि।उन्होंने कई प्रतिष्ठित नृत्य और संगीत समारोहों में भी प्रदर्शन किया है।वसंतोत्सव (दिल्ली), साधना (दिल्ली), अमरावती ग्लोबल म्यूजिक फेस्टिवल (अमरावती), विश्व सांस्कृतिक महोत्सव (दिल्ली), विश्व नृत्य दिवस (दिल्ली), कटक महोत्सव (ओडिशा)। वह दूरदर्शन के ग्रेडेड कलाकार हैं और संस्कृति मंत्रालय द्वारा यंग आर्टिस्ट्स छात्रवृत्ति से नवाजे जा चुके हैं एवं नृत्य शिरोमणि, नृत्य भूषण, नेहरू युवा सम्मान, नृत्य अलंकार पुरस्कार, युवा प्रतिभा पुरस्कार आदि सम्मान प्राप्त किये हैं ।

शैंकी सिंह के चयन होने पर भातखंडे हिंदुस्तानी संगीत महाविद्यालय, अल्मोड़ा के प्रधानाचार्य डा चन्द्र सिंह चौहान उनकी शिक्षिका(गुरु) रही चंचल तिवारी तथा समस्त अद्यापयक एवं कर्मचारियों ने हर्ष जताया एवं बधाईयां प्रेषित की हैं।