उत्तरा न्यूज
अभी अभी अल्मोड़ा

शक्तिपीठ कालिका मंदिर में हुआ भव्य आयोजन- सुर सम्राट सम्राट नरेंद्र सिंह नेगी एवं मीना राणा के मधुर स्वरों से गूंजी वादियां

उत्तरा न्यूज की खबरें अब whatsapp पर, इस लिंक को क्लिक करें और रहें खबरों से अपडेट बिना किसी शुल्क के
Join Now

अल्मोड़ा , 14 अक्टूबर 2021- गढ़वाल एवं अल्मोड़ा के मध्य सीमावर्ती दुसान क्षेत्र में विराजमान मां भगवती काली को समर्पित सिद्धपीठ कालिका धाम आस्था और कुदरत का एक अद्भुत संगम है ।

nitin communication


चारों ओर आस्था और कुदरत की छटा बिखेरता हुआ यह सिद्ध पीठ स्वर्ग से भी अति सुंदर और रमणीक है समुद्र तल से हजारों फिट की ऊंचाई में विराजमान यह शक्तिपीठ धार्मिक गतिविधियों के अलावा पर्यटन के लिए भी बहुत ही खूबसूरत है। मंदिर ट्रस्ट के मीडिया प्रभारी अजित सिंह रावत ने बताया कि पूरे साल भर यहां मां भगवती के भक्तों का तांता लगा रहता है परंतु इसके उपरांत यहां हर 3 साल में आयोजित होने वाले मेले (जतोडा) जोकि जात्रा का ही एक पहाड़ी शब्द है इस दौरान यहां लाखों भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ती है।


यह शक्तिपीठ कालिंका मंदिर गढ़वाल और अल्मोड़ा दोनों क्षेत्रों के लोगों का आस्था एवं विश्वास का प्रमुख केंद्र हैं मां भगवती के इस अलौकिक प्रांगण एवं मंदिर को महाकाली मंदिर निर्माण समिति एवं 14 गांव के बाडिंयारी कुल के वंशजों के अथक प्रयासों से दुबारा से भव्य एवं विशाल स्वरूप प्रदान किया गया है ।

ayushman diagnostics


नवनिर्मित इस प्रांगण के गर्भ गृह में महाकाली मंदिर ट्रस्ट के सदस्यों की मेहनत एवं प्रयासों के उपरांत मां भगवती की पवित्र अष्टधातु की मूर्ति की स्थापना की गई है इस भव्य एवं पवित्र प्रांगण के लोकार्पण के शुभ अवसर पर आज मंदिर समिति द्वारा एक भव्य धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है इस शुभ अवसर पर मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, दीप्ति रावत, विधायक सल्ट महेश जीना, राजेश कंडारी ब्लॉक प्रमुख बीरोंखाल, नरेंद्र सिंह नेगी सुप्रसिद्ध लोकगायक, श्रीमती मीना राणा लोक गायिका, नरेंद्र रौथाण, विशन सिंह हरियाला, सौरभ मैठाणी, महिमा उनियाल, इन सभी कलाकारों के अलावा अन्य कई गणमान्य लोगो द्वारा मां भगवती के चरणों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा कर मां का आशीर्वाद ग्रहण किया।


इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कई घोषणा की जिसमें की लोक कलाकारों को चयनित कर उन्हें पहचान पत्र जारी किए करने जिससे कि उन्हें अनेकों प्रकार का सरकारी लाभ प्राप्त हो सके।


इसके अलावा उन्होंने मंदिर समिति को भी शुभकामनाएं दी एवं प्राचीन इस मंदिर में पहाड़ की वीरांगना तीलू रौतेली द्वारा हर बार युद्ध में जाने से पहले इस पवित्र धाम में पूजा करने का वर्णन भी किया इस अवसर पर धार्मिक कार्यक्रम के अलावा एक बहुत बड़ा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किया गया जिसमें सुर सम्राट नरेंद्र सिंह नेगी स्वर कोकिला श्रीमती मीना राणा एवं अन्य कलाकारों द्वारा अपने मधुर स्वरों से पहाड़ की इन पवित्र वादियों को और भी खूबसूरत बना डाला।

Related posts

corona update — अल्मोड़ा में 14 कोरोना पॉजिटिव, संख्या पहुंची 2626

Newsdesk Uttranews

अल्मोड़ा शिक्षा विभाग में घोटाला— मानक रखे ताक पर बाजार भाव से चार गुनी कीमत पर खरीदे विद्युत उपकरण एमआरपी पर भी दिया टैक्स

Newsdesk Uttranews

Uttarakhand Breaking:: महिला अधिवक्ता ने लगाया मानसिक व शारीरिक शोषण का आरोप, मुकदमा दर्ज

Newsdesk Uttranews