News-web

चारधाम यात्रा में रिकॉर्ड भीड़, पांच दिन में ही ढाई लाख से ज्यादा श्रद्धालु पहुंचे

Published on:

चारधाम यात्रा में इस बार शुरुआत से ही तीर्थयात्रियों की रिकॉर्ड तोड़ भीड़ देखने को मिल रही है। यात्रा शुरू होने के पहले पांच दिनों में ही ढाई लाख से ज्यादा श्रद्धालु चारों धामों के दर्शन कर चुके हैं, जो पिछले साल के मुकाबले 1.15 लाख अधिक है। यह संख्या नए रिकॉर्ड की ओर इशारा कर रही है।

गौरतलब हो, उच्च हिमालयी क्षेत्रों में मौसम की चुनौतियों और विकट भौगोलिक परिस्थितियों के बावजूद, केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। हर रोज हजारों की संख्या में तीर्थयात्री चारों धामों के दर्शन कर रहे हैं।

10 मई को केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ ही यात्रा शुरू हुई थी। 12 मई को बदरीनाथ धाम के कपाट खुले। पिछले साल 22 अप्रैल को शुरू हुई चारधाम यात्रा के पहले पांच दिनों में 1.38 लाख यात्रियों ने दर्शन किए थे, जबकि पूरे यात्रा काल में यह संख्या 56 लाख से अधिक रही थी।

बता दें, श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने श्रद्धालुओं से अपील की है कि यह यात्रा कुछ दिनों के लिए नहीं है, बल्कि नवंबर तक चलेगी। उन्होंने यात्रियों से अनुरोध किया है कि पंजीकरण की उपलब्धता को देखते हुए अपनी चारधाम यात्रा की योजना बनाएं ताकि चारों धामों में सुगमता से दर्शन किए जा सकें।

चारधाम यात्रा में भारी भीड़ के कारण व्यवस्थाएं प्रभावित हो रही हैं। यात्रा नवंबर तक चलेगी, लेकिन श्रद्धालुओं में जल्द से जल्द यात्रा करने की होड़ के कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।