राज्य आंदोलनकारी

rajy andolkariyo ko naukari me mile 10% kshetij arakshan

अल्मोड़ा 21 अक्टूबर 2020
उत्तराखण्ड क्रांति दल ने राज्य आंदोलनकारियों व उनके आश्रितों को राज्य सरकार की नौकरियों में 10 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण का पुन: बहाल करने की मांग की है। कहा कि सरकार इसके लिए विधानसभा में विधेयक पारित करे।
राज्य आंदोलनकारियों की विभिन्न मांगों को लेकर उत्तराखण्ड क्रांति दल ने बुधवार को डीएम के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजा।
ज्ञापन में कहा कि कुछ राज्य आंदोलनकारियों को जून 2016 में 3100 रुपये प्रतिमाह पेंशन स्वीकृत की गयी, जो मंहगाई एवं राज्य आंदोलनकारियों के त्याग और बलिदान को देखते हुए अत्यन्त कम है इसलिये राज्य आंदोलनकारियों को न्यूनतम 15000 रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाय। मृतक राज्य आंदोलनकारियों के आश्रितों को भी वही लाभ दिया जाए।
इसके अलावा राज्य आंदोलनकारियों को दी जा रही परिवहन सुविधाओं, स्वास्थ्य सुविधाओ, बच्चों के लिए शिक्षा सुविधाओं को केवल सांकेतिक नही व्यवहारिक बनाये जाने की मांग भी ज्ञापन मे की गयी है।
कहा ​कि स्पष्ट प्रमाणों के बावजूद राज्य आंदोलनकारियों को राज्य सेनानी घोषित नहीं किया गया। राज्य आंदोलनकारियों को शीघ्र चिन्हित किये जाने की मांग की गई।
इस अवसर पर दल के केन्द्रीय उपाध्यक्ष ब्रहमानंद डालाकोटी, जिलाध्यक्ष शिवराज बनौला, प्रेमबल्लभ काण्डपाल, ओमी बिष्ट, प्रेम सिंह आदि मौजूद थे।