नेपाल की ओर से हो रही पत्थरबाजी के खिलाफ 28 से आंदोलन करेंगे स्थानीय लोग

editor1
2 Min Read

पिथौरागढ़। नेपाल की ओर से एक महीने के भीतर 11वीं दफा भारतीय नागरिकों पर हुई पत्थरबाजी से भड़के धारचूला के स्थानीय लोगों ने 28 दिसंबर से नेपाल के खिलाफ आंदोलन का ऐलान कर दिया है साथ ही कहा कि भारतीय क्षेत्र में 27 दिसंबर तक काली नदी किनारे तटबंध बनाने का काम शुरू नहीं हुआ तो ये चरबद्ध आंदोलन शुरू कर देंगे। बताते चलें कि शुक्रवार को नेपाल से हुई पत्थरबाजी की घटना के बाद से काली नदी के किनारे तटबंध निर्माण कार्य रोकना पड़ा है।

बताया गया कि पहले दिन 28 दिसंबर को तहसील का घेराव करने के बाद अंतरराष्ट्रीय झूलापुल पर तालेबंदी कर आवाजाही रोक दी जाएगी। उन्होंने नेपालियों को भारत में नहीं आने देने की चेतावनी जारी की है। शनिवार को स्थानीय लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि
पटधार क्षेत्र को काली नदी से कटाव का खतरा बना हुआ है, जिसे शीघ्र शुरू कराया जाए। लोगों ने चेतावनी देते हुए कहा कि नेपाल से पत्थरबाजी की घटनाएं नहीं थमने और काली नदी पर तटबंध निर्माध शुरू नहीं होने पर वे 28 दिसंबर से अंतरराष्ट्रीय झूलापुल पर ताला डालकर देंगे। कहा कि इस दौरान किसी भी तरह की दिक्कत आने पर शासन प्रशासन जिम्मेदार होगा।