News-web

प्रधानमंत्री ने आपातकाल के 49 वर्ष होने पर याद किया इस काले दिन को, लगातार किये चार ट्वीट जाने क्या क्या कहा

Published on:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को आपातकाल के 49 वर्ष पूरे होने पर लोकतंत्र के इस काले दिन को याद किया और उन्होंने कहा कि आज उन सभी महान पुरुषों और महिलाओं को श्रद्धांजलि देना चाहिए जिन्होंने इस आपातकाल का विरोध किया था।

उन्होंने कहा कि आपातकाल का काला दिवस हमें याद दिलाता है कि कैसे कांग्रेस पार्टी ने बुनियादी स्वतंत्रताओं को नष्ट कर दिया और भारत के उसे संविधान को बर्बाद कर दिया जिसे हम भारतीय बेहद सम्मान करते थे।

आज ही के दिन साल 1975 में देश में आपातकाल (Emergency) लगाया गया था। 25 जून 1975 मे लगी इमरजेंसी 21 मार्च 1977 यानी कि पूरे 21 महीने चला था। आपातकाल को आज 49 साल पूरे हो गए हैं लेकिन लोगों के जहन में इतिहास का वो काला स्याह अध्याय आज भी जिंदा है।

पीएम मोदी ने लिखा कि जिन लोगों ने इमरजेंसी लगाई, उनको हमारे संविधान के प्रति अपना प्यार जताने का कोई अधिकार नहीं है। पीएम ने कहा कि ये लोग वही हैं, जिन्होंने अनगिनत मौकों पर अनुच्छेद 356 लागू किया। प्रेस की स्वतंत्रता को खत्म करने के लिए विधेयक लाया गया, संघवाद को नष्ट किया और संविधान के हर पहलू का उल्लंघन किया।