Join WhatsApp Group

News-web

यूपी के 14 जिलों में अफसरो की उड़ गई है नींदे, एसी कूलर से हो रही है समस्या, कई अधिकारी हुए सस्पेंड वजह है चौंकाने वाली

Published on:

Meerut News: उत्तर प्रदेश के 14 जिलों में बिजली विभाग के अफसर के अब नींद उड़ गई है और इन इलाकों में पिछले 5 साल से तीन गुना से ज्यादा बिजली की खपत हो रही है। इसकी वजह गर्मी में ऐसी और कूलर पंखे का इस्तेमाल माना जा रहा है। आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला

पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के चौदह जिलों में बिजली की खपत और मांग दोनों बढ़ती जा रही है। बिजली के खपत ने इस बार रिकॉर्ड बनाया है। बिजली मांग में 66% की अप्रत्याशित वृद्धि हुई है जिसकी वजह से पावर कॉरपोरेशन भी हैरान है। ऐसे में बिजली आपूर्ति बनाए रखने के लिए सभी की नींद उड़ गई है।इसकी वजह गर्मी में ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले कलर और पंखे भी हैं। ऐसे मौके पर कोई प्लान शटडाउन नहीं लिया जा रहा है। कहीं कोई समस्या आ रही है तो उसे तत्काल एटेंड किया जा रहा है।

अधिकारियों का कहना यह अति संवेदनशील समय है और किसी भी तरह की कोई लापरवाही क्षमा योग्य नहीं होगी। बताया जा रहा है कि पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के अंतर्गत अपने कर्तव्य और दायित्व को उचित तरह से निर्वहन न करने पर कई अधिकारियों को निलंबित भी कर दिया गया है।

जनपद मुरादाबाद के विद्युत वितरण उपखण्ड-III, बिलारी में एलटी एबी केबल क्षतिग्रस्त होने के कारण विद्युत आपूर्ति लंबी अवधि के लिए बाधित हुई और उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ा। इसकी गुणवत्ता के सम्बंध में निरीक्षण/परीक्षण शेर सिंह अधिशासी अभियंता विद्युत नगरीय परीक्षण खण्ड-III, गाजियाबाद ने किया था।

इन अधिकरियों को निलंबित किया

इस एलटी केबल को विद्युत भंडार खण्ड मुरादाबाद पर मनोज कुमार सहायक अभियंता विद्युत भंडार खण्ड मुरादाबाद एवं अमित कुमार भंडार अधीक्षक विद्युत भंडार खण्ड मुरादाबाद के जरिए मात्रा एवं गुणवत्ता की जांच कर प्राप्त किया गया था। इसलिए कर्तव्यों एवं दायित्वों का उचित निर्वहन न करने, निगम की छवि धूमिल करने, विभाग को वित्तीय हानि पहुचाने, घोर लापरवाही बरतने पर इन अधिकरियों को निलंबित किया गया है।