उत्तरा न्यूज
अभी अभी बागेश्वर

Bageshwar- जनप्रतिनिधि व अधिकारी आपसी समन्वय के साथ विकास कार्य में दें सहयोग: सुरेश गडिया

खबरें अब पाए whatsapp पर
Join Now

बागेश्वर। 05 अप्रैल, 2022- नवनिर्वाचित विधायक सुरेश गडिया ने अधिकारियों के साथ आगामी 06 माह में विधान सभा में विकास कार्यों का रोड मैप पर विस्तृत चर्चा की। उन्होंने कहा आगामी 06 माह में सड़क, विद्युत, पेयजल, के साथ ही स्वास्थ्य शिक्षा क्षेत्र में अधिक तेजी लानी है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के विकास के लिये जनप्रतिनिधियों व अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्यों को अंजाम दें।

विकास खण्ड कपकोट में प्रथमबार पहुॅचने पर नव निर्वाचित विधायक का जिला पंचायत क्षेत्र पंचायत व ग्राम प्रधानों व अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। जिलाधिकारी विनीत कुमार ने कहा कि सभी अधिकारी आगामी 06 माह में कार्यों की प्राथमिकता तय करते हुए धरातल पर उतारना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी क्षेत्र का स्वयं भ्रमण कर जनता व जनप्रतिनिधियों से मिलकर प्राथमिकता निर्धारित करें व कार्यों में समयबद्धता व गुणवत्ता पर विषेश ध्यान दें।

विधायक ने कहा कि आगामी 06 माह में सभी सड़कों की मरम्मत करें तथा आपदा में बंद सड़कों को खोलना सुनिष्चित करें। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग 06 माह के भीतर सड़कों के किनारे खड़े गले पोलों को बदले साथ ही लो वोल्टेज क्षेत्रों के ट्रांसफार्म बदलने, पेयजल विभाग क्षतिग्रस्त पेयजल लाईनों की मरम्मत कर सुचारू पेयजल उपलब्ध कराये, नहरों की मरम्मत करें। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों की सूचना जनप्रतिनिधियों को देना सुनिश्चित करें अधिकारी। विकास कार्यों को समय से पूर्ण किये जाय, इस हेतु जनता व जनप्रतिनिधि विकास कार्यों में अधिकारियों का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि विकास गांव से प्रारम्भ करना है जब गॉव का विकास होगा तभी न्याय पंचायत व ब्लाक का विकास होगा।

विधायक ने कहा कि अधिकारी व जनप्रतिनिधि अपने दायित्वों को समझें तथा जवाबदेही समझे। जनता की समस्याओं का समय से निस्तारण करें। उन्होंने सड़क महकमे के अधिकारियों को सड़कों को साफ रखने के निर्देष दिये साथ ही सभी विभागीय अधिकारियों को सड़क किनारों से विभागीय सामग्री जैसे विद्युत पोल, ट्रांसफार्मर, पाईप अन्य निर्माण सामग्री तुरन्त हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्रों की सड़कें, नालिया, नदियों को स्वच्छ रखें। उन्होंने निर्माण संस्थाओं को निर्देश दिये कि जो ठेकेदार समय से गुणवत्तापूर्ण मानकों के अनुसार कार्य नहीं करते उन्हें तुरन्त ब्लैकलिस्ट किया जाय। उन्होंने सड़क महकमे के अधिकारियों को क्षेत्रीय कास्तकारों की भूमि का मुआवजा 06 माह के भीतर दिलाना सुनिष्चित करेंगें साथ ही मनरेगा कार्यों के लम्बित भुगतान को शीघ्र किया जाय। उन्होंने कपकोट क्षेत्र में मछली पालन कार्य की सराहना करते हुए और मत्स्य पालन कलस्टर के रूप में बढ़ाने के निर्देष भी दिये, ताकि कास्तकारों की आय दुगुनी हो सके। उन्होंने पशुपालन, बकरी, कुटकुट, कृशि, उद्यान पर विषेश ध्यान देना होगा।

उन्होंने सभी पात्रों को समय से पेंशन भुगतान करने व चौरा तथा फरसाली में एसटी के बच्चों के लिये क्षात्रावास हेतु भूमि चयनित कराने के निर्देष समाज कल्याण अधिकारी को दिये। उन्होंने सस्ता गल्ला विक्रेताओं को भाड़ा भुगतान कराने के निर्देश पूर्ति अधिकारी को भी दिये। कार्यक्रम की अध्यक्षता ब्लाक प्रमुख कपकोट गोविन्द सिंह दानू द्वारा की गयी। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष बसंती देव, नगर पंचायत अध्यक्ष गोविन्द सिंह बिष्ट, पूर्व कबिना मंत्री बलवंत सिंह भौर्याल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश ऐठानी, बिक्रम शाही, केदार सिंह महर, गोविन्द सिंह गढिया, महेश दानू, प्रेमा दानू, भूपेष गढिया, मनोज भौर्याल, पूजा दानू, पूजा कोरंगा, चन्दन ताकुली, निर्मला फर्त्याल सहित पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह इमलाल, मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, उप जिलाधिकारी हरगिरी, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 सुनीता टम्टा, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, अधि0अभि0 लोनिवि संजय पाण्डेय, राजकुमार सहित अनेक जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद थे।

Related posts

अल्मोड़ा पुलिस ने 31 लोगों के खिलाफ की कार्रवाई कहा,  चुनाव बहिष्कार के लिए लोगों को उकसा रहे थे ये लोग

Uttarakhand corona— सोमवार को उत्तराखंड में आए कोरोना के 51 संक्रमित, 4 की मौत

Newsdesk Uttranews

एक्सक्लूसिव रिपोर्ट : आखिर क्यों गायब हो रहे है डिवाइडर

Newsdesk Uttranews