shishu-mandir

एक के बाद एक भर्ती में घोटाले का आरोप, अब ग्राम्य विकास में भर्तियों पर भी उठे सवाल

उत्तरा न्यूज टीम
1 Min Read
Screenshot-5

देहरादून। उत्तराखंड में नौकरियों में भ्रष्टाचार आम बात बनती जा रही है। अब उत्तराखंड ग्राम्य विकास विभाग की रूरल इंटरप्राइजेज एक्सीलरेशन प्रोजेक्ट (रोप) परियोजना में आउटसोर्स की नियुक्ति को लेकर आवेदकों ने सवाल उठाए हैं।

new-modern
gyan-vigyan

saraswati-bal-vidya-niketan

आवेदकों ने कहा है कि 10 पदों के लिए दिसंबर में विज्ञापन निकाला गया था, ऑनलाइन आवेदन के बाद विभाग ने वेबसाइट पर ही आगे की प्रक्रिया की जानकारी देने की बात कही गई थी. लेकिन गुपचुप चयन कर लिया गया।

मामले पर अपर सचिव का कहना है कि नियुक्ति के लिए अभी आउटसोर्स एजेंसी का ही चयन नहीं हुआ है। विभाग में सिर्फ मैनेजर नॉलेज मैनेजमेंट की एक पोस्ट के लिए ही चयन हुआ है। शेष पदों के लिए चयन ही नहीं हुआ तो गड़बड़ी का सवाल ही पैदा नहीं होता है।