अमन संस्था की नीलिमा भट्ट करेंगी एशिया का प्रतिनिधित्व, जर्मनी में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा में बनी स्टेंडिग कमेटी की सदस्य

Newsdesk Uttranews
4 Min Read

अल्मोड़ा, 29 जून 2023- अमन संस्था से जुड़ी बाल अधिकार कार्यकर्ता, जेजेबी बोर्ड सदस्य नीलिमा ​भट्ट बाल अधिकारों पर कार्य करने वाली अंतर्राष्ट्रीय संस्था टेरेस-दस-होम(टीडीएच) की ओर से आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा में प्रतिभाग कर भारत वापस लौट आई हैं। यह प्रतिनिधि सभा 23 सें 25 जून तक जर्मनी में आयोजित की गई थी।


3 दिन की इस अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा में विभिन्न देशों के 42 प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। नीलिमा ने इस बैठक में ना केवल बाल अधिकारों के मुद्दों पर खुल कर अपनी राय रखी बल्कि अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में उन्हें आगामी 5 वर्षों 2023 से 2028 तक के लिए स्टेंडिग कमेटी(स्टेंड कॉम) के सदस्य के रूप में चुना गया।


नीलिमा इस स्टेडिंग कमेटी में एशिया का प्रतिनिधित्व करेंगी। स्टेडिंग कमेटी दुनिया के विभिन्न भागों में बाल अधिकारों के लिए करने के लिए नए लक्ष्य निर्देशन और निर्धारित लक्ष्यों को हासिल करने के लिए कार्य करेंगी। यही नहीं कमेटी 2028 के बाद 2033 तक दुनिया के विभिन्न भागों में बाल अधिकारों के लिए कार्य करने के लिए नए लक्ष्यों का निर्धारण भी करेगी।


इस प्रति​निधि सभा के लिए दक्षिण ​एशिया,दक्षिण पूर्व एशिया, अफ्रीका, दक्षिणी अमेरिका तथा यूरोप देशों से 42 प्रति​निधि चुने जाते हैं। इस प्रतिनिधि सभा की बैठकों में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर बच्चों के लिए प्रस्तावित कार्यक्रमों और अभियानों पर निर्णय लिया जाता है।


इस ​प्रतिनिधि मंडल में भारत से प्रतिभाग करने वाली अमन संस्था ऐसी पहली संस्था है जिसे इसमें प्रतिभाग करने का दोबार मौका मिला है। इससे पहले वर्ष 2013 में अमन के मुख्य कार्यकारी रघु तिवारी और अब बाल अधिकार कार्यकर्ता नीलिमा भट्ट प्रतिभाग कर चुकी हैं।
जर्मनी से वापस लौट कर नीलिमा ने बताया कि आगामी पांच वर्षों के लिए रणीनीतिक लक्ष्य निर्धारित किए है। जिसमें शिक्षा और सशक्तिकरण, प्रवासी बच्चों के लिए अधिकारों तक पहुंच, युवा पर्यावरण कार्यकर्ताओं के लिए समर्थन तथा जेंडर जस्टिस के लिए प्रतिबद्धता शामिल है। उन्होंने कहा कि आगामी पांच वर्षाे में इन लक्ष्यों पर वैश्विक स्तर पर कार्य किया जाएगा और बाल अधिकारों को सुनिश्चित करने के प्रयास तेज किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि भारत के अपेक्षाकृत युरोपीय में बच्चों के अधिकार और विकास के लिए अधिक सजगता है। इसके लिए हमे भी और अधिक संवेदना और सजगता से कार्य करना होगा।


नीलिमा भट्ट अमन संस्था से जुड़ी है। बच्चों के लिए विभिन्न अभियानों में सक्रिय रूप से कार्य करने वाली नीलिमा इससे पहले बाल कल्याण समति की सदस्य भी रह चुकी हैं और वर्तमान में किशोर न्याय बोर्ड की सदस्य हैं। उन्होंने बच्चों और किशोरियों के कल्याण और सुरक्षा के लिए विभिन्न स्तर पर कई प्रयास किए हैं। नीलिमा के अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा की स्टेंडिग कमेटी का सदस्य बनने पर अमन संस्था प्रमुख रघु तिवारी, नीमा कांडपाल, विमला, दीपिका, मनाखत्री और खीमानंद भट्ट आदि ने खुशी जाहिर कर उन्हें बधाई दी है।

Joinsub_watsapp