News-web

नैनीताल के बॉक्सिंग कोच अभिषेक साह ने किया कमाल,भारतीय टीम रूस से लाई 10 मेडल

Published on:

उत्तराखंड में नैनीताल निवासी बॉक्सिंग कोच अभिषेक साह के प्रशिक्षण में भारतीय टीम ने रूस में 10 मेडल जीतकर कमाल कर दिया है। इसमें दो गोल्ड, तीन सिल्वर और पांच ब्रॉन्ज मेडल है। कुल मिलाकर 10 मेडल हासिल किए गए हैं। नैनीताल में पले बड़े अभिषेक साह के पिता दीप लाल शाह जिला न्यायालय से सेवानिवृत हुए जबकि उनकी मां पुष्पा एक ग्रहणी है।

बॉक्सिंग की लगन लिए अभिषेक ने देहरादून से महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज से अपने बॉक्सिंग करियर की शुरुआत की। उन्होंने भारतीय बॉक्सिंग टीम का हिस्सा बनकर अंतराष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लिया और फिर पुलिस के बाद स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया(साईं)से जुड़ गए। उन्होंने इस दौरान एन.आई.एस.कोच का प्रशिक्षण भी लिया। अभिषेक वर्तमान में भारतीय महिला बॉक्सिंग टीम के कोच हैं अभिषेक के प्रशिक्षण में तैयार महिला बॉक्सिंग टीम ने रूस के कजान में 19 से 22 जून तक खेले गए ब्रिक्स महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लिया।

भारतीय महिला बॉक्सिंग टीम ने धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए दो गोल्ड मैडल, तीन सिल्वर मैडल और पांच ब्रोंज मैडल जीतकर हिंदुस्तान के नाम को विश्व पटल पर चमका दिया है। नैनीताल में टल्ली ताल के रहने वाले भारतीय महिला टीम के मुख्य कोच अभिषेक साह बंटी द्वारा प्रशिक्षित 12 में से 10 बॉक्सरों ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में मेडल जीतकर कमाल कर दिया ।

इस टीम की मीनाक्षी और अनामिका ने भारत को गोल्ड मैडल दिलाए, ज्योति, साक्षी और मनीषा ने सिल्वर मैडल जीते जबकि प्राची, मंजू, ललिता, पूजा और नूपुर ने ब्रॉन्ज मैडल हासिल कर भारत के मेडलों की संख्या को दस तक पहुंचाया। इस प्रतियोगिता में सावीटी और सोनिया ने भी अलग अलग वेट कैटेगिरी में प्रतिभाग किया।

अभिषेक के इस सफल प्रदर्शन से इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन के पूर्व महासचिव राजीव मेहता, ऊत्तराखण्ड ओलंपिक एसोसिएशन के अध्यक्ष मुखर्जी निर्माण, बॉक्सिंग फेडरेशन के सचिव गोपाल खोलिया, अंतराष्ट्रीय बॉक्सर और भारतीय बॉक्सिंग टीम कोच ललित प्रसाद, अंतराष्ट्रीय बॉक्सिंग टीम मैनेजर नवीन चंद्र टम्टा, बॉक्सिंग कोच अजय कुमार, नैनीताल के बॉक्सिंग खिलाड़ियों ने शुभकामनाएं दी हैं।