News-web

हाथरस हादसे में मातम: 23 महिलाओं सहित 3 बच्चों की जान गई, जानें कैसे हुआ यह दुखद हादसा

A big accident happened in Hathras, Uttar Pradesh, sad news came, 23 women and three children died, know the whole matter

उत्तर प्रदेश के हाथरस जनपद से एक दुखद खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि यहां सत्संग में हिस्सा लेने पहुंचे 27 लोगों की भगदड़ में मौत हो गई है। इसकी पुष्टि एटा के चीफ मेडिकल ऑफिसर ने की जानकारी के अनुसार भोले बाबा के सत्संग में भगदड़ मच जाने के कारण यह हादसा हुआ है मरने वाले में कुल 19 महिलाएं भी शामिल है।


एटा के सीएमओ डॉ उमेश त्रिपाठी ने 27 डेड बॉडी ओं की पुष्टि की है मरने वालों में एक पुरुष 23 महिलाएं और तीन बच्चे शामिल हैं। बताया जा रहा है कि हाथरस जनपद के सिकंदराराऊ थानाक्षेत्र के फुलरई गांव में चल रहे भोले बाबा क़े सत्संग में भगदड़ मच गई। इस दौरान अनेकों श्रद्धालुओं की मौत हो गई। मृतकों की डेड बॉडी एटा मेडीकल कॉलेज पहुंचाई गई है।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राकेश प्रताप सिंह का कहना है कि यह लोग भोले बाबा के सत्संग में हाथरस जनपद के सिकंदराराव थाना क्षेत्र के फूल रही गांव में जा रहे थे। राजेश कुमार सिंह ने कहा कि हाथरस जिले के मुगलगढ़ी गांव में एक धार्मिक आयोजन चल रहा था, तभी भगदड़ मच गई। एटा अस्पताल में अब तक 27 शव आ चुके हैं, जिनमें 23 महिलाएं, 3 बच्चे और 1 पुरुष शामिल हैं। घायल अभी अस्पताल नहीं पहुंचे हैं. आगे की जांच की जा रही है। इन 27 शवों की पहचान की जा रही है।


बताया जा रहा है कि सत्संग खत्म होने के बाद यह भगदड़ हुई कई लोग मारे गए हैं। भोले बाबा का सत्संग एटा-हाथरस बॉर्डर के रतीभानपुर में चल रहा था। कई घायलों को एटा मेडिकल कॉलेज लाया गया है।
इस हादसे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने शोक जताया। मुख्यमंत्री ने हाथरस में हुए हादसे का संज्ञान लेते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंच कर राहत कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने घायलों के समुचित उपचार के निर्देश दिए हैं।