चंद्रशेखर पैन्यूली। प्रतापनगर।

प्रतापनगर की लाइफ लाइन कहे जाने वाले 2006 से निर्माणाधीन,डोबरा-चांठी पुल अब जल्द ही आवागमन के लिए तैयार होने वाला है। बहुप्रतिक्षित पुल निर्माण को लेकर आम जन और स्थानीय जनता में बेहद प्रसन्नता का माहौल है। दरअसल पुल न होने से टिहरी जनपद के प्रतापनगर विधानसभा का क्षेत्र मुख्यधारा से कट चुका था। लेकिन अब जल्द ही प्रतापनगर ,(गाजणापट्टी) क्षेत्र सहित सभी लोग इस पुल के ऊपर से बड़े वाहनों पर आवागमन कर सकेंगे,। लंबगांव के ग्राम प्रधान तथा समाचार प्रदाता चंद्रशेखर पैन्यूली का कहना है कि पुल के संदर्भ में उच्चाधिकारियों से उनकी वार्ता हुई है, उन्होंने जल्द ही पुल आवागमन के लिए तैयार होने की बात कही है। गौरतलब है कि वर्ष 2006 में तत्कालीन मुख्यमंत्री पंडित स्व नारायण दत्त तिवारी और तत्कालीन क्षेत्रीय विधायक स्व फूल सिंह बिष्ट के कार्यकाल में इसकी नीव पड़ी। उस समय इस पुल की लागत लगभग 90 करोड़ थी और ये डबल लेन भी था,लेकिन आज ये सिंगल लेन ही बन रहा है और अभी तक लगभग 300 करोड़ इस पर खर्च हो चुका है,इस पुल पर आवगमन शुरू होने से जल्द ही प्रतापनगर विकास की मुख्य धारा से जुड़ जाएगा। टिहरी जनपद क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता विष्णु पैन्यूली का कहना है कि यह पुल प्रतापनगर की आम जनता के लिए एक वरदान साबित होगा।

समाचार प्रदाता चंद्रशेखर पैन्यूली प्रतापनगर, लंबगांव , लिखवार गांव के ग्राम प्रधान भी है ।