उत्तरा न्यूज

उधमसिंह नगर की महत्वपूर्ण सितारगंज की चीनी मिल बंद होने पर पडो़सी राज्य यूपी के बहेड़ी की केसर इंटर प्रॉईसेस चीनी मिल राज्य के गन्ना उत्पादक किसानों के लिए संजीवनी बनकर सामने आई है।

बहेड़ी की केसर चीनी मिल ने उत्तराखंड की बंद पडी चीनी मिल के भी गन्ने की पेराई पिछले साल की और इस साल भी कर रही है जो यहा के गन्ना किसानों के लिए एक अच्छा कदम है क्योंकि सितार गंज मिल बंद होने से किसानों को काफी दिक्कत उठानी पड़ती लेकिन केसर चीनी मिल के सहयोग से ये समस्या दूर हो पायी है।

IMG 20191218 WA0096

बहेड़ी के केसर इंटरप्राइजेज चीनी मिल के अध्यक्ष शरद मिश्रा ने बताया कि मिल ने सत्र 2018-19 में कुल 109.92 लाख रू की खरीद की। जिसका 35265.24 लाख रू भुगतान सभी कृषकों के बैंक खाते में कर दिया गया है। साथ ही सत्र 2019-20 का भी भुगतान किया जा रहा है। इसका श्रेय वह कृषकों के सहयोग को देते हैं।