shishu-mandir

चिकित्सा शिक्षा सचिव डाॅ आर राजेश कुमार पहुंचे पिथौरागढ़,कही यह बात

Newsdesk Uttranews
3 Min Read
Screenshot-5

पिथौरागढ़। चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा सचिव उत्तराखंड डाॅ आर राजेश कुमार ने कहा कि बेस अस्पताल पिथौरागढ़ के संचालन के लिए अनुबंधित डाक्टर तैनात किए जाएंगे, जो यूजी और पीजी के बांडेड डाक्टर होंगे। उन्होंने कहा कि चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग इसका संचालन करेगा और हमारी पूरी कोशिश है कि हफ्ता, दस दिन में बेस अस्पताल का प्राथमिकता के आधार पर संचालन शुरू कर दिया जाए।

new-modern
holy-ange-school


चिकित्सा स्वास्थ्य एवं शिक्षा सचिव डाॅ आर. राजेश कुमार ने बृहस्पतिवार को बीडी पांडे जिला अस्पताल के एक्सटेंशन यूनिट नवनिर्मित बेस अस्पताल के साथ ही जिला चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय और चंडाक में प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज स्थल का निरीक्षण करने के बाद यह बात पत्रकारों से कही।

gyan-vigyan


उन्होंने कहा कि हल्द्वानी और अल्मोड़ा के स्वास्थ्य शिक्षा के प्रिंसिपल और अन्य अधिकारियों के साथ बेस अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद तय किया है कि इसको जल्द आंशिक रूप से मेडिकल एजुकेशन डिपार्टमेंट को हैंडओवर कर दिया जाए। उन्होंने बेस अस्पताल में उपकरणों की कमी को लेकर कहा कि कुछ उपकरण अल्मोड़ा और कुछ हल्द्वानी से आएंगे। साथ ही उपकरणों की कमी को कुछ हद तक पूरा करने के लिए उन्होंने सीएमओ पिथौरागढ़ से भी कहा है।

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज जो 200 बेड का है, हमारी कोशिश है कि उसे 300 अतिरिक्त बेड के हिसाब से विकसित किया जाए। ताकि जब तक बेस अस्पताल संचालित रहेगा, उसके सापेक्ष मेडिकल कॉलेज भी तैयार होकर संचालित हो जाए। सचिव ने बताया कि उन्होंने कार्यदाई संस्था पेयजल निर्माण निगम को 1 सप्ताह में फाइनेंशियल बिड भी फाइनल करने को कहा है, जबकि टेक्निकल संबंधी टेंडर फाइनल हो चुका है। इस दौरान प्रधानाचार्य मेडिकल कॉलेज पिथौरागढ़ ने कॉलेज के निकट स्थित रेशम विभाग की 1.87 हेक्टेयर भूमि को मेडिकल कॉलेज को देने की मांग रखी।


अपने दो दिवसीय जनपद भ्रमण पर बुधवार शाम पिथौरागढ़ पहुंचे स्वास्थ्य सचिव डॉ कुमार ने बृहस्पतिवार को विभिन्न अस्पतालों का निरीक्षण कर अधिकारियों को तमाम व्यवस्थाएं दुरुस्त करने को लेकर दिशा निर्देश दिए।


स्वास्थ्य सचिव ने जिला महिला चिकित्सालय के विस्तारीकरण के लिए उप जिलाधिकारी सदर को कार्य करने के निर्देश दिए। साथ ही बिजली व पेयजल आपूर्ति बेहतर किए जाने को भी कहा। उन्होंने महिला अस्पताल परिसर में ही निर्माणाधीन 40 बेड के अस्पताल को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश ग्रामीण निर्माण विभाग को दिए।


इस दौरान जिलाधिकारी रीना जोशी, ज्वाइंट डायरेक्टर चिकित्सा शिक्षा विभाग डॉक्टर एमके पंत, प्रधानाचार्य मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी अरुण जोशी, प्रधानाचार्य मेडिकल कॉलेज अल्मोड़ा, उप जिलाधिकारी अनुराग आर्य, सीएमओ डॉ एचएस ह्याॅंकी, सीएमएस जिला अस्पताल जेएस नबियाल, वरिष्ठ भाजपा नेता भूपेश पंत, गोविंद महर, तहसीलदार पंकज चंदोला समेत स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।