News-web

जाने क्यों चुनाव खत्म होते ही योगी सरकार ने इस जिले के दो अधिकारियों सहित चार लोगों को किया निलंबित,आखिर क्‍यों हुई कार्रवाई?

Published on:

भारतीय खाद्य निगम के गोदाम से राशन की कालाबाजारी के मामले में कार्यवाही की गई थी। यह मामला यूपी के बुलंदशहर का है। खाद्य एवं रसद आयुक्त सौरभ बाबू का कहना है कि बुलंदशहर में भारतीय खाद्य निगम के गोदाम से राशन की कालाबाजारी की शिकायत पर जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में एक समिति का गठन कर जांच कराई थी।

बुलंदशहर में भारतीय खाद्य निगम के गोदाम से राशन की कालाबाजारी के मामले में जिला खाद्य विपणन अधिकारी जिया अहमद करीम, विपणन निरीक्षक सुधीर कुमार, पूर्ति निरीक्षक विवेक श्रीवास्तव के साथ ही जिलापूर्ति अधिकारी सुनील सिंह को निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही शुरू की गई है।

खाद्य एवं रसद आयोग के सौरभ बाबू का कहना है कि बुलंदशहर में भारतीय खाद्य निगम के गोदाम से राशन की कालाबाजारी की शिकायत पर जिलाधिकारी ने अपर  जिलाधिकारी (प्रशासन) की अध्यक्षता में समिति का गठन कर जांच कराई थी।

जांच में हुआ कालाबाजारी का खुलासा

इस मामले में डिपो प्रभारी शालिनी पचौरी क्षेत्रीय विपणन अधिकारी इंद्रपाल सिंह , विपणन निरीक्षक गौरव कुमार, विनोद कुमार दोहरे, मुकेश कुमार, राजीव शर्मा व मनोज कुमार के विरुद्ध खाद्यान्न भेजने में लापरवाही तथा अभिलेखों का उचित रख-रखाव न करने को लेकर विभागीय कार्यवाही की संस्तुति की गई। समिति की जांच में जिले के सदर ब्लॉक में सिंगल स्टेज परिवहन व्यवस्था में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के सरकारी खाद्यान्न की कालाबाजारी व दुरुपयोग पाया गया।

इस मामले में हैंडलिंग परिवहन ठेकेदार रविंद्र सिंह, सुधीर कुमार, विपणन निरीक्षक बुलंदशहर, अंकुर सिंह, शिवकुमार, वकील खां, पिंकी, पवन के विरुद्ध सरकारी खाद्यान्न की कालाबाजारी एवं दुरुपयोग किए जाने के लिए अभियोग पंजीकृत कराया गया है।