interceptor vehicles

Almora police has also got interceptor vehicles, high speed vehicles will be able to trace and more

इंटरसेप्टर वाहन(interceptor vehicles) की मदद से 3 प्रकार से चालान किए जा सकते हैं. इसमें लाईन चैन्जिग, ओवर स्पीड, नशे में वाहन ड्राइविंग करने वालों पर नियंत्रण करेगा. यह सड़क से गुजरते हाई स्पीड वाहनों को कैमरों के माध्यम से परख लेगा एवं दूर तक का फोटो भी क्लिक कर सेव कर लेगा.

अल्मोड़ा, 24 जुलाई 2020— अल्मोड़ा पुलिस को भी अतिआधुनिक सुविधाओं वाला इंटरसेप्टर वाहन(interceptor vehicles) मिल गया है. इस वाहन में लगे उपकरणों की मदद से वाहनों की तेज गति और शराब पीकर वाहन चलाने वाले ट्रेस किए जा सकेंगे.

interceptor vehicles

एसएसपी पी नारायण ​मीणा ने इस वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.यह वाहन करीब 3सौ मीटर की दूरी तक वाहनों की गति को पकड़ सकता है. वहीं इसमें लगे ब्रीथ ऐनालाइजर से शराब पीकर गाड़ी चलाने वालो को ट्रेस कर उनका चालान करेगा.

एसएसपी अल्मोड़ा ने बताया कि पर्वतीय क्षेत्र होने के कारण ओवर स्पीडिंग से वाहन दुर्घटनाएं होती हैं, जिसमें लोग अपनी जान गंवा रहे हैं. इन पर रोकथाम के लिए इंटरसेप्टर अहम भूमिका निभाएगी. साथ ही रात में भी तेज रफ्तार वाहनों पर लगाम लगाई जा सकेगी.

यह वाहन आधुनिक लेजर तकनीकि पर आधारित कैमरों से लैस है। इन वाहनों पर लेजर स्पीड राडार गन, एनटीपीआर (ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रिकग्निशन ) सिस्टम, रूफ टॉप कैमरा, डैश बोर्ड कैमरा, रियर व्यू कैमरा, मैसेज एलइडी डिस्पले एवं प्रिन्टर लगे हुए हैं.

इंटरसेप्टर ओवर स्पीड से चलने वाले वाहनों की स्पीड को पकड़ने में सक्षम हैं. जिससे तेज रफ्तार से वाहन चलाने वालों पर लगाम लगाई जा सकेगी.

इन्टरसैप्टर (interceptor vehicles)तीन प्रकार के चालान कर सकती है

इंटरसेप्टर वाहन(interceptor vehicles) की मदद से 3 प्रकार से चालान किए जा सकते हैं. इसमें लाईन चैन्जिग, ओवर स्पीड, नशे में वाहन ड्राइविंग करने वालों पर नियंत्रण करेगा. यह सड़क से गुजरते हाई स्पीड वाहनों को कैमरों के माध्यम से परख लेगा एवं दूर तक का फोटो भी क्लिक कर सेव कर लेगा.


स्पीडोमीटर ओवर स्पीड (तात्कालिक गति) को चैक करने के लिए लगा हुआ है, जिससे वाहन का फोटो, रजिस्टेशन नम्बर तथा वाहन का प्रकार सभी की एक साथ फोटो खींच जाऐगी एवं दिनाॅक/समय भी ऐड हो जायेगा.


ब्रीथ एनालाईजर ऐल्कोहाॅलिक पर्सन यदि वाहन चला रहा हो तो उसको ट्रेक कर लेगा.रूफ टाॅप कैमरा यह रूटेट कैमरा है, जो कि तीनों साइड रोड को नजर बनाये रखेगा, तथा गतिविधियों को इन्टरसेप्टर वाहन में लगे माॅनीटर में प्रदर्शित करेगा.

इससे तथा यलो लाईन चैन्जिंग पर नजर रखेगा.उक्त अवसर पर पुलिस उपाधीक्षक अल्मोड़ा वीर सिंह, पुलिस उपाधीक्षक रानीखेत तपेश कुमार, पुलिस उपाधीक्षक संचार राजीव कुमार, प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाईन अशोक परिहार, निरीक्षक अभिसूचना कमल कुमार पाठक, एसआईएमटी कालू चन्द्र, टीएसआई विजय बिष्ट, साईबर सैल प्रभारी नीरज भाकुनी, आशुलिपिक महेश कश्यप, मीडिया सैल प्रभारी हेमा ऐठानी, महेन्द्र, विनोद कुॅवर आदि कर्मचारी मौजूद थे.

वीडियो अपडेट के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को लाइक और सब्सक्राइब करें, लिंक नीचे दिया गया है

https://www.youtube.com/channel/UCq1fYiAdV-MIt14t_l1gBIw