उत्तराखंड में बिजली दरें बार-बार बढ़ाना जनता से लूट : कांग्रेस

उत्तरा न्यूज टीम
1 Min Read
fire broke out

देहरादून। उत्तराखंड में सरकार ने पिछले एक साल में बिजली की कीमत तीन बार बढ़ायी है। इस बढ़ोत्तरी में घरेलू, उद्योग, व्यापार, किसान की उपभोग की बिजली 10 से 12 फीसद महंगी कर आम नागरिक को लूटने का काम किया है।

यह बात कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने पत्रकारों के दौरान कही। उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग की सिफारिशों पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने यह सब कहा।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की तर्ज पर राज्य की भाजपा सरकार धीरे धीरे महंगाई का जहर जनता को दे रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विद्युत दरों में वृद्धि के खिलाफ आंदोलन करेगी। बताते चलें कि 1 अक्टूबर से 31 दिसम्बर 2022 तक के लिए नई दरें घोषित की गई हैं।