shishu-mandir

कैंसर से बचाव के लिए समय रहते करें पहचान

उत्तरा न्यूज टीम
3 Min Read
Screenshot-5

पिथौरागढ़। विश्व कैंसर दिवस के मौके पर शनिवार को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की ओर से जगह जगह गोष्ठियों का आयोजन किया गया, जिसमें कैंसर से बचाव और उसकी समय पर पहचान के लिए जागरूकता पर जोर दिया गया।

new-modern
gyan-vigyan

saraswati-bal-vidya-niketan

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एचएस ह्यांकी के निर्देशन में जिलेभर की समस्त चिकित्सा इकाइयों में जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए गए। इनमें बताया गया कि कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी की समय पर पहचान कर उपचार शुरू किया जाए तो उससे बचाव संभव है।

इस अवसर पर बताया गया कि वर्तमान में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों में मुंह, गर्भाशय व स्तन कैंसर की निःशुल्क स्क्रीनिंग की जा रही है। बताया कि मुंह में चकत्ता या घाव होना, किसी जगह पर त्वचा का कड़ा हो जाना, ऐसा घाव जो एक माह से अधिक अवधि तक न भरे, मुंह खोलने में कठिनाई होना, चबाने या निगलने में कठिनाई होना मुंह के कैंसर के लक्षण हैं।

वहीं स्तनों में गांठ या सूजन होना, आकार में बदलाव, स्तन या कांख में दर्द होना आदि स्तन कैंसर के लक्षण हैं। कैंसर के बचाव के लिए तंबाकू व शराब का सेवन न करने व कैंसर की शुरूआती पहचान के लिए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में जांच कराने की अपील की।

कैंसर के लक्षणों के प्रति अधिक से अधिक जागरूकता फैलाने के उद्देश्य के साथ प्रत्येक वर्ष 4 फरवरी को विश्व कैंसर दिवस के रूप में मनाया जाता है। शनिवार को जिला मुख्यालय में डॉ आरके जोशी व डॉ पवन कार्की द्वारा एएनएम प्रशिक्षण केंद्र में गोष्ठी का आयोजन किया गया, जहां पर छात्राओं को स्लाइड शो के माध्यम से कैंसर की जानकारी दी गई व कैंसर के प्रकारों के बारे में बताया गया।

वहां पर उपस्थित सीएचओ को सर्वाइकल कैंसर, ओरल कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर आदि की स्क्रीनिंग के संबंध में बताया गया। संस्थान की छात्राओं ने कैंसर से संबंधित विभिन्न पोस्टर बनाए तथा रैली निकालकर भी जागरूक किया गया।

कार्यक्रम में डा सचिन प्रकाश, ट्यूटर इंचार्ज लता पांडेय, आईईसी प्रभारी पंकज पांडेय, योगेश पंत, दीपक बडोला, योगेश भट्ट, पंकज उप्रेती, हिमानी जोशी, सीएचओ दिव्या बनोला, खुशबू, पूजा तिवारी, हिमानी पांडेय समेत संस्थान में प्रशिक्षणरत छात्राएं उपस्थित रहीं।