shishu-mandir

परीक्षाओं और भर्तियों में पारदर्शी व्यवस्था के लिए सरकार दृढ़ संकल्प : चुफाल

उत्तरा न्यूज टीम
2 Min Read
Screenshot-5

पिथौरागढ़। पूर्व कैबिनेट मंत्री और डीडीहाट से भाजपा के विधायक वरिष्ठ नेता बिशन सिंह चुफाल ने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश और भर्तियों में पारदर्शिता को लेकर उत्तराखंड की सरकार कटिबद्ध है। चाहे वह वर्ष 2016 में वीपीडीओ के पदों पर हुई भर्ती हो, विधानसभा सचिवालय में बैकडोर भर्तियों का मामला हो या अन्य भर्तियां हों, सभी मामलों में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की सरकार साफ सुथरी और एक पारदर्शी व्यवस्था के लिए ठोस कदम उठा रही है।

new-modern
holy-ange-school

gyan-vigyan

उन्होंने कहा कि 2016 की ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के पदों पर भर्ती में हुई धांधली को लेकर मुख्यमंत्री धामी ने कड़ा एक्शन लिया है और इसी का नतीजा है कि एसटीएफ की जांच में दोषी पाए गए तीन उच्च अधिकारी गिरफ्तार किए गए। एसटीएफ की जांच अभी चल रही है और जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।


बुधवार को यहां जिला मुख्यालय स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से वार्ता में भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व कैबिनेट मंत्री चुफाल ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था का एक भय होना चाहिए, ताकि कोई भी ग़लत और गैरकानूनी काम न कर सके। चाहे वह शासन प्रशासन के अधिकारी हों या जनप्रतिनिधि या अन्य, उनमें नियम कानून का डर होना जरूरी है।


चुफाल ने कहा कि भ्रष्टाचार और भर्तियों में धांधली के खिलाफ मुख्यमंत्री धामी एक मिसाल कायम करते हुए काम कर रहे हैं। वह भ्रष्टाचार रूपी घुन को समाप्त करने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं, जिसके चलते प्रदेश के युवाओं में यह विश्वास फिर से कायम हुआ है कि राज्य में विभिन्न परीक्षाएं और नियुक्तियां पारदर्शी तरीके से होंगी और योग्य व आम युवाओं को उनका हक मिलेगा।
राज्य कैबिनेट में बदलाव और विस्तार के एक सवाल पर विधायक चुफाल ने कहा कि पार्टी नेतृत्व जैसा चाहेगा और जिसे चाहेगा उसी तरह से बदलाव होगा।